By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बिहार में वज्रपात से 17 लोगों की मौत, 5 लोग झुलसे, जल्द लगेगा सेंसर

;

- sponsored -

बिहार में मंगलावर को हुई भारी बारिश और आकाशीय बिजली ने 17 लोगों को जिन्दगी छीन ली है. जबकि इस प्राकृतिक आपदा में 5 लोग झुलस गए हैं. जिनका इलाज अस्पताल में चल रहा है. आपदा प्रबंधन विभाग ने लोगों की मौतों की पुष्टि करते हुए, जानकारी दी कि सभी मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये मुआवजा दिया जायेगा.

-sponsored-

-sponsored-

बिहार में वज्रपात से 17 लोगों की मौत, 5 लोग झुलसे, जल्द लगेगा सेंसर

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार में मंगलावर को हुई भारी बारिश और आकाशीय बिजली ने 17 लोगों को जिन्दगी छीन ली है. जबकि इस प्राकृतिक आपदा में 5 लोग झुलस गए हैं. जिनका इलाज अस्पताल में चल रहा है. आपदा प्रबंधन विभाग ने लोगों की मौतों की पुष्टि करते हुए, जानकारी दी कि सभी मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये मुआवजा दिया जायेगा. आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि सरकार ऐसे संकट काल में मृतकों के परिजनों के साथ खड़ी है.

बता दें कि मंगलवार को तेज बारिश और ठनके के कारण राज्य के कई जिलों में भारी नुक्सान हुआ है. इसके साथ ही कई लोगों की मौत भी हो गई. बता दें मरने वालों में गया व कैमूर से 3-3, पटना, भोजपुर, मोतिहारी, मुजफ्फरपुर और सिवान से 2-2 और कटिहार में एक की मौत की पुष्टि हुई है. वहीं आपदा प्रबंधन ने बताया कि वज्रपात की बढ़ती घटनाओं को देखते हुए विभाग की ओर से वज्रपात से होने वाली मौतों में कमी किए जाने के प्रयास किए जा रहे हैं.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने कहा कि विभाग ने एक अमेरिकी कंपनी से करार किया है जिसके तहत वज्रपात की सूचना के लिए सेंसर लगाए जाएंगे. उन्होंने बताया कि इन सेंसरों के जरिये वज्रपात की सूचना समय पर मिल जाएगी और लोगों को आगाह किया जा सकेगा. जिससे वज्रपात से होने वाली मौतों में कमी आएगी. बता दें कि बिहार के बीते जून महीने में भी वज्रपात गिरने से 29 लोगों की मौत हो गई थी. जिसके बाद ये हर बार गिरने वाले वज्रपात के कारण मौतों की संख्या बढती रही है. जाहिर है इस उपकरण को लगाने के बाद लोगों को बचाया जाए.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.