By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

PM साहेब! नशबंदी कराने के वावजूद मैं हो गई गर्भवती, प्लीज उचित कारवाई हो

प्रधानमंत्री जी सरकारी अस्पताल में नसबंदी कराने के बाद भी मैं हो गई गर्भवती

- sponsored -

पटना के बिक्रम थाना क्षेत्र की रहने वाली महिला ने पीएम को लिखे पत्र में कहा है कि प्रधानमंत्री जी मैने विक्रम प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में नशबंदी कराया था. लेकिन नशबंदी के बाद भी मैं गर्भवती हो गई हूं.जब मैने इस बात की शिकायत अस्पातल प्रशासन से की तो उल्टे मेरे उपर ही दोष मढ़ दिया गया है.

PM साहेब! नशबंदी कराने के वावजूद मैं हो गई गर्भवती, प्लीज उचित कारवाई हो

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार के सरकारी अस्पतालों में नशबंदी करानेवाले सावधान. नशबंदी के वावजूद आप बन सकते हैं/ बन सकती हैं बच्चों के मां-बाप. एक ऐसा ही मामला  पटना जिले में सामने आया है. पटना की एक महिला ने एक सरकारी अस्पताल में नशबंदी करवाई फिर भी वो गर्भवती हो गई है. इस महिला ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को एक पत्र लिखकर सरकारी अस्पतालों की स्थिति से अवगत कराया है.

पटना के बिक्रम थाना क्षेत्र की रहने वाली महिला ने पीएम को लिखे पत्र में कहा है कि प्रधानमंत्री जी मैने विक्रम प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में नशबंदी कराया था. लेकिन नशबंदी के बाद भी मैं गर्भवती हो गई हूं.जब मैने इस बात की शिकायत अस्पातल प्रशासन से की तो उल्टे मेरे उपर ही दोष मढ़ दिया गया है.महिला ने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के हाल का जिक्र करते हुए पीएम को आगे लिखा हा- अस्पताल का हाल ऐसा है कि यहां महिलाओं का जमीन पर ही ऑपरेशन कर दिया जाता है. उन्हें बेड तक मुहैया नहीं कराया जाता है.यहां घंटे भर के अंदर कई महिलाओं का ऑपरेशन कर दिया जाता है.

Also Read

-sponsored-

महिला ने लिखा है कि मेरे पहले से दो बच्चे हैं. उनका लालन-पालन ठीक ढंग से कर सकूं, इसीलिए नशबंदी कराने का फैसला लिया था.लेकिन अस्पताल की लापरवाही की वजह से मैं फिर से गर्भवती हो गई हूं. इस दिशा में उचित कदम उठाते हुए अस्पताल में व्याप्त कुव्यवस्था की जांच और मुझे उचित मुआवजा दिलाने की कृपा करें. इस महिला ने बिहार के सरकारी अस्पतालों की चिकित्सा व्यवस्था पर बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.