By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

सड़क हादसों में मृतकों की संख्या बढ़ोतरी में जमशेदपुर देश में अव्वल

Above Post Content

- sponsored -

सड़क दुर्घटना में बढ़ते मौत के मामले में जमशेदपुर की स्थिति देशभर में सबसे खराब है। जमशेदपुर पहले पायदान पर है, मौत के बढ़ते आंकड़ों के अनुपात में चेन्नई दूसरे और जयपुर तीसरे पायदान पर है।

Below Featured Image

-sponsored-

सड़क हादसों में मृतकों की संख्या बढ़ोतरी में जमशेदपुर देश में अव्वल

सिटी पोस्ट लाइव : सड़क दुर्घटना में बढ़ते मौत के मामले में जमशेदपुर की स्थिति देशभर में सबसे खराब है। जमशेदपुर पहले पायदान पर है, मौत के बढ़ते आंकड़ों के अनुपात में चेन्नई दूसरे और जयपुर तीसरे पायदान पर है। हादसे में जान गंवाने वालों में 18 से 35 वर्ष आयु के लोग ज्यादा हैं। 2016 में शहर के अलग-अलग क्षेत्र में 77 लोगों ने सड़क दुर्घटना में जान गंवाई थी, 2017 में यह संख्या बढ़कर 223 हो गई।

एक साल में मरने वालों की संख्या में 146 का इजाफा
एक साल में मरने वालों की संख्या में 146 का इजाफा हुआ, जो दूसरे शहरों की तुलना में सबसे ज्यादा है। हाईवे पर होने वाली दुर्घटनाओं को देखें तो मौत के आंकड़े अौर बढ़ जाएंगे। हाईवे पर प्रतिमाह 24 सड़क हादसे हो रहे हैं। इनमें से 15 घायलों की मौत हो जाती है। शहर में सड़क दुर्घटना और मौत की संख्या बढ़ने के पीछे का कारण ओवर स्पीड व गलत तरीके से ड्राइविंग, आेवरटेक करना, नशे की हालत में गाड़ी चलाना और जर्जर सड़क का होना बताया गया है। देश के 50 शहरों की रिपोर्ट जारी की गई है। रिपोर्ट के मुताबिक, 50 शहरों में 2016 में 17797 लोगों की मौत हुई जबकि 2017 में यह घट कर 16971 हो गई। कुल मौत की संख्या के मामले में चेन्नई पहले स्थान पर है।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.