By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

गंगा नदी उफान पर, खतरे में पटना, जिला प्रशासन सतर्क

डीएम ने दिए गंगा घाटों पर होमगार्ड और स्वयंसेवकों की तैनाती के दिए निर्देश, अलर्ट मोड़ में प्रशासन .

;

- sponsored -

पहलीबार गंगा नदी में भयंकर उफान देखा जा रहा है.गंगा का पानी कहीं शहर के अन्दर न घुस जाए इसको लेकर प्रशासन सतर्क है. लेकिन सबसे बड़ा सवाल उन लोगों का क्या होगा जो गंगा नदी में बने अपार्टमेंट्स में रहते हैं.अगर  गंगा नदी में बने ये अपार्टमेंट्स गंगा नदी की उफान की भेंट चढ़ जाते हैं तो एक बड़ा हदशा हो सकता है.   पटना के कुर्जी, दीघा, कलेक्ट्रिएट, गांधी घाट,कालीघाट, गायघाट,कंगन घाट पर विशेष निगरानी के निर्देश दिए हैं.

-sponsored-

-sponsored-

गंगा नदी उफान पर, खतरे में पटना, जिला प्रशासन सतर्क

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार की राजधानी  पटना में गंगा नदी उफान पर है. गंगा नदी के उफान पर होने की वजह से पटना में बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है.मुख्यमंत्री नीतीश कुमार खुद गंगा घाटों का निरिक्षण कर सावधान रहने की हिदायत जिला प्रशासन को दे चुके हैं. अब पटना के जिलाधिकारी  कुमार रवि ने पटना के कुर्जी, दीघा, कलेक्ट्रिएट, गांधी घाट,कालीघाट, गायघाट,कंगन घाट पर विशेष निगरानी के निर्देश दिए हैं.

कुमार रवि ने गंगा घाटों के निरिक्षण के बाद घाटों पर होमगार्ड और स्वयंसेवकों के प्रतिनियुक्ति का निर्देश भी जारी कर दिया है.डीएम के आदेश के अनुसार  24 घंटे शिफ्ट के अनुसार होमगार्ड और स्वंयसेवकों की तैनाती की जाएगी. कुमार रवि ने बताया कि नागरिकों की सुरक्षा को लेकर विशेष निर्देश दिए गए हैं.गंगा के जलस्तर में वृद्धि को लेकर प्रशासन अलर्ट है.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

गौरतलब है कि झमाझम मुसलाधार बारिश की वजह से राजधानी पानी पानी हो गई थी. पहलीबार गंगा नदी में भयंकर उफान देखा जा रहा है.गंगा का पानी कहीं शहर के अन्दर न घुस जाए इसको लेकर प्रशासन सतर्क है. लेकिन सबसे बड़ा सवाल उन लोगों का क्या होगा जो गंगा नदी में बने अपार्टमेंट्स में रहते हैं.अगर  गंगा नदी में बने ये अपार्टमेंट्स गंगा नदी की उफान की भेंट चढ़ जाते हैं तो एक बड़ा हदशा हो सकता है.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.