By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बंद खदान से कोयला निकालने के क्रम में चाल धंसने से दंपती की मौत

;

- sponsored -

बोकारो और रामगढ़ जिला के सीमा पर मांडू थाना अंतर्गत लाइयो के बंद खदान में कोयला निकालने के क्रम में एक दंपती की चाल धंसने से मौत हो गई है। घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि लईयो ग्राम निवासी अनिल रविदास 35 वर्ष और उसकी पत्नी अंजली देवी जलावन के लिए कोयला लेने गए थे।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव, बोकारो: बोकारो और रामगढ़ जिला के सीमा पर मांडू थाना अंतर्गत लाइयो के बंद खदान में कोयला निकालने के क्रम में एक दंपती की चाल धंसने से मौत हो गई है। घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि लईयो ग्राम निवासी अनिल रविदास 35 वर्ष और उसकी पत्नी अंजली देवी जलावन के लिए कोयला लेने गए थे। जिस खदान से कोयला निकाल रहे थे, वह खदान पिछले एक वर्ष से बंद पड़ा हुआ है।

 सीसीएल के आउटसोर्सिंग के तहत एक कंपनी कोयला उत्खनन का काम किया था। कोयला निकालने के बाद उस खदान को बंद कर दिया गया था, लेकिन आउटसोर्सिंग कंपनी द्वारा उस खदान से कोयला निकालने के बाद उसे उसी तरह छोड़ दिया था। लिहाजा आसपास के लोग जलावन के लिए कोयला निकालने  जाया करते थे, लगातार कोयले की निकासी के कारण उक्त स्थान पर सुरंग बन गया था और ग्रामीण लगातार कोयला निकालने का काम कर रहे थे, जिसकी वजह से आज चाल धंसने से दंपति  की मौत हो गयी। बताया गया कि कुछ लोग आसपास के ईंट भट्ठों में कोयला बेचने के उद्देश्य उक्त खदान से कोयला निकालने के काम किया करते थे।

इसी दौरान रविवार की रात को सुरंग से कोयला निकालने के दौरान उक्त हादसा हुआ। मृतक के तीन छोटे-छोटे बच्चे हैं, जिसमें दो बेटी और एक बेटा है। घटना की जानकारी मिलने के बाद आसपास के लोग बड़ी संख्या में घटनास्थल पर पहुंचे। इस संबंध में मांडू पुलिस को सूचना दी गई है।जानकारी मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई है और जांच में जुट गयी. ग्रामीणों ने इसकी जानकारी झारखंड कोलियरी के परियोजना पदाधिकारी को भी दिया है।

;

-sponsored-

Comments are closed.