By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बिहार में जल्द ही मिलेगा 6900 बेरोजगारों को नौकरी का तोहफा

Above Post Content

- sponsored -

बिहार में बेरोजगारों को जल्द ही नीतीश सरकार तोहफा देने जा रही है. जो परीक्षार्थी राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग में नौकरी के लिए परीक्षा दिए थें उनका इन्तजार अब खत्म होने वाला है. दरअसल एक जुलाई को काउंसलिंग की प्रक्रिया पुरी कर ली गई है और अब चयनित उम्मीदवारों की सूची भी बना ली गई है.

Below Featured Image

-sponsored-

बिहार में जल्द ही मिलेगा 6900 बेरोजगारों को नौकरी का तोहफा

सिटी पोस्ट लाइव- बिहार में बेरोजगारों को जल्द ही नीतीश सरकार तोहफा देने जा रही है. जो परीक्षार्थी राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग में नौकरी के लिए परीक्षा दिए थें उनका इन्तजार अब खत्म होने वाला है. दरअसल एक जुलाई को काउंसलिंग की प्रक्रिया पुरी कर ली गई है और अब चयनित उम्मीदवारों की सूची भी बना ली गई है. लेकिन रिजल्ट जारी करने से पहले समीक्षा की जारी रही है. इसके बाद परीक्षा का परिणाम कभी भी जारी किया जा  सकता है.

बता दें कि प्रधान सचिव के आदेश पर कमेटी ने मंगलवार को जांच शुरू कर दी है. कमेटी की रिपोर्ट मिलने के बाद अगर सबकुछ ठीक रहा तो रिजल्ट घोषित करने में देर नहीं होगी. इस विभाग में करीब सात हजार पदों पर बहाली के लिए ऑनलाइन आवेदन मांगे गए थे. इस रिक्ती के विरूद्ध लिखित परीक्षा का प्रावधान नहीं किया गया था. अंक पत्र और काउंसिलिंग के आधार पर बहाली की प्रक्रिया पूरी हुई. काउंसिलिंग में उन्हीं को बुलाया गया, जिन्होंने अंतिम तौर पर सभी जरूरी जानकारी के साथ अपना आवेदन अपलोड किया था.

Also Read

-sponsored-

मालुम हो कि यह बहाली राज्य सरकार ने जिस पदों के लिए निकाली थी उसके लिए कई हजार आवेदन आएं थें जिसमें -विशेष सर्वेक्षण सहायक बंदोबस्त पदाधिकारी के लिए 6841, विशेष सर्वेक्षण कानून-गो के लिए 4048, विशेष सर्वेक्षण अमीन के लिए 30967,अमीन के लिए 29254 और लिपिक के लिए दस हजार से अधिक आवेदन आए थे. जबकि निम्न पदों के लिए इतनी रिक्तियां हैं-विशेष सर्वेक्षण सहायक बंदोबस्त पदाधिकारी- 275..विशेष सर्वेक्षण कानून गो—550..विशेष सर्वेक्षण अमीन–4950,अमीन-550 और विशेष सर्वेक्षण लिपिक के लिए 550 रिक्तियों पर नियुक्ति होनी है.
                                                                                                                                         जे.पी.चंद्रा की रिपोर्ट

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.