By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

ईलाज के दौरान एक गर्भवती महिला की हुई मौत, अस्पताल के सभी डॉक्टर हुए फरार

;

- sponsored -

बिहार के मोतिहारी जिले में अस्पताल में इलाज के दौरान एक गर्भवती महिला की मौत हो गयी. महिला की मौत के बाद अस्पताल के सभी डॉक्टर फरार हो गए. इसके साथ ही अस्पताल के डॉक्टर ड्यूटी रुम में ताला लटका दिया गया. जानकारी के मुताबिक अरेराज के मननपुर चौबे टोला वार्ड 2 निवासी

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव: बिहार के मोतिहारी जिले में अस्पताल में इलाज के दौरान एक गर्भवती महिला की मौत हो गयी. महिला की मौत के बाद अस्पताल के सभी डॉक्टर फरार हो गए. इसके साथ ही अस्पताल के डॉक्टर ड्यूटी रुम में ताला लटका दिया गया. जानकारी के मुताबिक अरेराज के मननपुर चौबे टोला वार्ड 2 निवासी अमीरी राम की पत्नी 30 वर्षीय पूनम देवी गर्भवती महिला को अरेराज के सरकारी रेफ़रल अस्पताल में 24 तारीख की सुबह 10:00 के करीब भर्ती कराया गया. जहां उनका इलाज चल रहा था.

परिजन दो दिन से मरीज को रेफर करने के लिए डॉक्टर से आरजू विनती करते रहे थे, लेकिन डॉक्टर और नर्स ने परिजनों की एक भी नही सुनी. नतीजन शुक्रवार की सुबह प्रसव पीड़ा के दौरान ही मरीज की मौत अस्पताल के बेड पर ही हो गया. वहीं परिजनों का आरोप है कि इलाज में लापरवाही से मरीज की मौत हुई है. मरीज की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया. वही परिजन अस्पताल परिसर में दोषी डॉक्टर व नर्स पर करवाई को लेकर हंगामा करने लगे.

बता दें कि मृत महिला की शादी अरेराज के मननपुर चौबे टोला वार्ड 2 में हुआ था. उनका मायका तुरकौलिया के ख़िरवा बाजार के नजदीक जयसिंहपुर है. पहले से उनको एक 4 वर्षीय पुत्री चांदनी कुमारी है. परिजन डॉक्टर पर मरीज के इलाज में लापरवाही का आरोप लगाकर हंगामा कर रहे है, वहीं परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है. मौके पर अरेराज ओपी थाना पुलिस, गोबिंदगंज थाना पुलिस, अरेराज सीओ सहित पदाधिकारी पहुंच हंगामा को शांत करने में जुटे है.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

अरेराज एसडीएम संजीव कुमार और डीएसपी ज्योति प्रकाश ने परिजनों से बात कर शव को पोस्टमार्टम के लिए मोतिहारी भेजवाया. साथ ही मुवावजे देने, बच्ची के पढ़ाई के भी बात कही है और उन्होंने बताया कि परिजनों के इलाज की लापरवाही की जांच के लिए एक टीम का गठन कर जांच कराया जा रहा है. जांच में दोषी पाए जाने वाले के विरुद्ध कड़ी करवाई की जाएगी. वहीं प्रभारी चिकित्सा प्रभारी डॉ अनिल झा कैमरे के सामने आने और कुछ भी बोलने से इनकार कर रहे थे.

;

-sponsored-

Comments are closed.