By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

एसीबी ने 170 करोड़ों रुपए के घोटाले की जांच पूरी की, जल्द दर्ज होगी एफआईआर

;

- sponsored -

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की ओर से 170 करोड़ों रुपए के घोटाले के मामले की जांच पूरी कर ली गई है। जल्द ही मामले में एफ आई आर दर्ज किया जाएगा।

-sponsored-

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव, रांची: भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की ओर से 170 करोड़ों रुपए के घोटाले के मामले की जांच पूरी कर ली गई है। जल्द ही मामले में एफ आई आर दर्ज किया जाएगा। ब्यूरो सूत्रों ने बताया कि जरेडा के पूर्व निदेशक निरंजन कुमार के खिलाफ एसीबी शीघ्र ही एफ आई आर दर्ज कर सकती है। जांच में एसीबी को 170 करोड़ रुपये के घोटाले के पुख्ता सबूत मिले हैं । जांच में जरेडा और ऊर्जा निगम के कई अन्य अधिकारियों की भूमिका भी सामने आई है। उल्लेखनीय है कि एसीबी की टीम ने निरंजन कुमार को ब्यूरो में बुलाकर पूछताछ की थी। इससे पूर्व 170 करोड़ रुपए के घोटाले को लेकर एसीबी ने निरंजन कुमार के खिलाफ प्रारंभिक जांच दर्ज की थी।
सीएम हेमंत सोरेन के आदेश के बाद 28 मई को एसीबी ने प्रारंभिक जांच दर्ज की थी ।इंडियन पोस्ट एंड टीसी अकाउंट्स एंड फाइनेंस सर्विस के अधिकारी निरंजन कुमार के खिलाफ एसीबी डीजी ने आदेश दिया था कि 2 हफ्ते में प्रारंभिक जांच पूरी कर इस संबंध में आगे के तथ्यों की जानकारी जुटाकर एफ आई आर दर्ज की जाए। निरंजन कुमार पर अवैध रूप से वेतन निकासी सहित कई अन्य आरोप भी लगे हैं। उनके खिलाफ सरकार के विभिन्न खातों से लगभग 170 करोड़ का भुगतान करने और सपरिवार विदेश भ्रमण की शिकायत भी सरकार को मिली थी। संपत्ति विवरण में पत्नी के नाम से अर्जित संपत्ति का कोई विवरण नहीं देने और निविदा में मनमाने तरीके से किसी कंपनी विशेष को लाभ पहुंचाने का भी एसीबी से जांच कराने का आदेश सरकार ने दिया है । निरंजन कुमार के खिलाफ पूर्व में एसीबी ने जांच की अनुमति सरकार से मांगी थी लेकिन पूर्व की सरकार ने जांच की अनुमति नहीं दी थी ।

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.