By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

पति अभिषेक और CA सुमन सिंह से लगभग 20 घंटे की पूछताछ के बाद पूजा सिंघल को पूछताछ के लिए EDऑफिस बुलाया गया है।

After about 20 hours of interrogation of husband Abhishek and CA Suman Singh, Pooja Singhal has been called to the ED office for questioning.

HTML Code here
;

- sponsored -

झारखंड की खान सचिव पूजा सिंघल से ED आज पूछताछ करेगी। वो ED के ऑफिस पहुंच गई हैं। उनके पति अभिषेक झा और CA सुमन सिंह से लगभग 20 घंटे की पूछताछ के बाद उन्हें पूछताछ के लिए उन्हें ED ऑफिस बुलाया गया है।

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव – झारखंड की खान सचिव पूजा सिंघल  ED के ऑफिस पहुंच गई हैं। उनके पति अभिषेक झा और CA सुमन सिंह से लगभग 20 घंटे की पूछताछ के बाद उन्हें पूछताछ के लिए उन्हें ED ऑफिस बुलाया गया है। ED पूजा से पूछेगी कि उनके खाते में आय से अधिक 1.43 करोड़ रुपए कहां से आए। उनके निजी खाते से 16.57 लाख रुपए सीए सुमन सिंह के खाते में क्यों ट्रांसफर किए गए? 

 

सुमन सिंह को गिरफ्तार कर लिया है।

ED ने पूजा सिंघल और उनके करीबियों से जुड़े 5 राज्यों के 25 ठिकानों पर शुक्रवार को छापा मारा था। CA सुमन सिंह के पास से 19.31 करोड़ रुपए कैश मिले थे। इसके बाद ईडी ने सुमन सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। कोर्ट में ईडी ने सुमन सिंह को रिमांड पर लेने से पहले जानकारी दी थी कि मनरेगा घोटाले के दौरान जब पूजा सिंघल कई जिलों में DC थीं, तब उनके और उनके पति के खाते में वेतन से अधिक 1.43 करोड़ रुपए थे। पूजा ने 3.96 लाख 2015 में सुमन सिंह के अकाउंट में ट्रांसफर किए।

 

 

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज किया गया था

उत्तराखंड की रहने वाली पूजा सिंघल 21 साल की उम्र में IAS बन गई थीं। 21 साल की पूजा सबसे कम उम्र में IAS कैडर में प्रवेश करने के लिए पूजा सिंघल का नाम लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज किया गया था। पूजा साल 2000 बैच की भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) की अधिकारी हैं। झारखंड के कई जिलों में DC रहने के बाद फिलहाल वो सेक्रेटरी के पद पर कार्यरत हैं।

 

 

गंभीर आरोप लगाया था।

पूजा सिंघल के ससुर भी उतने ही रंगीनमिजाज थे। पूजा सिंघल के दूसरे पति अभिषेक झा के पिता कामेश्वर झा संयुक्त बिहार में जिला समाज कल्याण पदाधिकारी थे। अपने कार्यकाल के दौरान वे भी खूब चर्चा में रहे हैं। सूरमा लगाने की वजह से हमेशा अपने अधिकारियों और कर्मियों के बीच चर्चा में रहते थे। दुमका के कार्यकाल के दौरान तत्कालीन DC ने उनकी जमकर फटकार भी लगाई थी। इतना ही नहीं उनके महिला सहयोगियों ने भी उन पर गंभीर आरोप लगाया था।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.