By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

CM नीतीश पर हमला, ‘चाचा नहीं चाहते थे के मैं उनका पड़ोसी बनकर रहूं’

- sponsored -

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने एकबार फिर अपने बंगले को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तगड़ा हमला बोला है.

Below Featured Image

-sponsored-

CM नीतीश पर हमला, ‘चाचा नहीं चाहते थे के मैं उनका पड़ोसी बनकर रहूं’

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने एकबार फिर अपने बंगले को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तगड़ा हमला बोला है. उन्होंने कहा है कि  सुप्रीम कोर्ट के बंगला खाली करने वाले आदेश का वो पालन करेगें. शुक्रवार को प्रेस वार्ता के दौरान तेजस्वी यादव ने कहा कि वे सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैं. वे जल्द ही बंगला खाली कर देंगे. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा. तेजस्वी ने कहा कि चाचा ने जो परम्परा शुरू की है वह बिल्कुल गलत है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार के पास खुद सात बंगले हैं. वहीं मुख्यमंत्री आवास को भी बहुत सारे बंगले को मिलाकर बनाया गया है. ऐसे में उन्हें भी जवाब देना चाहिए.

तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश जी को जब इतना से मन नहीं भरा तो वे दिल्ली में भी सचिव के नाम पर बंगला अलॉट करवा लिए है. जबकि उसमें वे खुद रहते हैं. उन्होंने कहा कि  हमें संविधान के तहत बंगला अलॉट किया गया था. लेकिन नीतीश कुमार को पसंद नहीं था कि तेजस्वी उनके पड़ोसी बनकर रहे. ऐसे में उन्होंने मेरा बंगला वहां से हटवा दिया.गौरतलब है  कि बंगला विवाद मामले पर शुक्रवार को तेजस्वी को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका लगा था. कोर्ट ने तेजस्वी यादव की याचिका को खारिज करते हुए उनपर 50 हजार रुपए का जुर्माना भी लगा दिया है. मालूम हो कि पटना हाईकोर्ट से याचिका खारिज होने के बाद तेजस्वी यादव ने हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी.

Also Read

-sponsored-

गौरतलब है कि कईबार बिहार सरकार के भवन निर्माण मंत्री महेश्वर हजारी तेजस्वी यादव का बंगला जबरन खाली करवा लेने का ऐलान कर चुके थे. लेकिन मामला सुप्रीम कोर्ट पहुँच जाने के बाद वो फैसले का इंतज़ार कर रहे थे. अब जब सुप्रीम कोर्ट का फैसला तेजस्वी यादव के खिलाफ आ गया है. भवन निर्माण मंत्री का कहना है कि बिहार सरकार ने तेजस्वी यादव को बहुत सम्मान देने का काम किया. लेकिन वो बंगले के मोह में इस कदर फंसे थे कि छोड़ने को तैयार नहीं थे. अब तो उन्हें बंगला भी छोड़ना पड़ेगा और जुरमाना भी देना होगा.

यह भी पढ़ें – बाहुबली नेता ने PhD की परीक्षा के दौरान ली सेल्फी,सोशल मीडिया पर वायरल हुई तस्वीर

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.