By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बंगाल में शुरू हुआ ‘मिशन ममता’, ‘प्रंशात किशोर ढूंढ रहे बंगाली सोशल मीडिया एक्जक्यूटिव

- sponsored -

पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव के लिए सीएम सह टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी के चुनावी रणनीतिकार की भूमिका निभा रहे प्रशांत किशोर अब पूरी तरह एक्टिव हो गये हैं। ‘पीके’ की कंपनी ‘आईपैक’ की ओर से मीडिया मैनेजर्स और सोशल मीडिया एक्जक्यूटिव की भर्ती निकाली गयी है।

Below Featured Image

-sponsored-

बंगाल में शुरू हुआ ‘मिशन ममता’, ‘प्रंशात किशोर ढूंढ रहे बंगाली सोशल मीडिया एक्जक्यूटिव

सिटी पोस्ट लाइवः पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव के लिए सीएम सह टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी के चुनावी रणनीतिकार की भूमिका निभा रहे प्रशांत किशोर अब पूरी तरह एक्टिव हो गये हैं। ‘पीके’ की कंपनी ‘आईपैक’ की ओर से मीडिया मैनेजर्स और सोशल मीडिया एक्जक्यूटिव की भर्ती निकाली गयी है। बंगाल में ‘पीके’ की टीम का हिस्सा होने वाले लोगों के लिए बंगाली भाषा की जानकारी होना जरूरी है। आपको बता दें कि जेडीयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशंात किशोर के ममता बनर्जी के चुनावी रणनीतिकार बनने को लेकर भी बिहार में लंबे समय तक पाॅलिटिकल ड्रामा चलता रहा।

‘पीके’ जेडीयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रहते हुए जिस तरह से बंगाल में बीजेपी की दुश्मन ममता बनर्जी की राह आसान करने के लिए रणनीतिकार की भूमिका में है उससे यह सवाल लगातार उठता रहा है कि क्या यह सबकुछ नीतीश कुमार की मर्जी से हो रहा है? बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व की ओर से तो इस मामले पर कुछ नहीं कहा गया लेकिन बिहार बीजेपी के कद्दावर नेताओं में से एक डाॅ. सीपी ठाकुर ने यह जरूर कहा कि यह गठबंधन धर्म के अनुकूल नहीं है।

Also Read

-sponsored-

बिहार की राजनीति गरमायी तो यह कयास लगने लगे कि सीएम नीतीश कुमार सभवतः प्रशंात किशोर से इस मामले में सफाई भी मांगेंगे लेकिन सीएम ने यह कहकर इस पूरे मामले से किनारा कर लिया कि इससे पार्टी का कोई लेना देना नहीं है प्रशांत किशोर की कंपनी आईपैक पहले भी ऐसे काम करती रही है। बहरहाल प्रशांत किशोर अब बंगाल में एक्टिव हो गये हैं और उनकी कंपनी आईपैक की ओर से जो वैकेंसी निकाली गयी है उससे यह भी स्पष्ट है कि बंगाल में उनका मिशन ममता शुरू हो गया है अब इससे जेडीयू-बीजेपी की दोस्ती पर क्या असर पड़ेगा यह आगे देखना होगा।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.