By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

भोजपुरी सिंगर-एक्टर पवन सिंह के शो में बेकाबू हुई भीड़, पथराव के बाद मंच छोड़कर जाना पड़ा

;

- sponsored -

भोजपुरी सिंगर-एक्टर पवन सिंह का एक बड़ा दर्शक वर्ग और श्रोता वर्ग है. पवन सिंह जहां कहीं भो शो के लिए जाते हैं वहां भीड़ खींची चली आती है

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

भोजपुरी सिंगर-एक्टर पवन सिंह के शो में बेकाबू हुई भीड़, पथराव के बाद मंच छोड़कर जाना पड़ा
सिटी पोस्ट लाइवः भोजपुरी सिंगर-एक्टर पवन सिंह का एक बड़ा दर्शक वर्ग और श्रोता वर्ग है. पवन सिंह जहां कहीं भो शो के लिए जाते हैं वहां भीड़ खींची चली आती है. गायकी का गुणगान करने वाली यह भीड़ जब अपने आपे से बाहर होती है तो फिर तस्वीर कैसी होती है यह रोहतास के करगहर में देखनें को मिली. रोहतास के करगहर महोत्सव में पवन सिंह के शो के दौरान भीड़ बेकाबू हो गयी. जैसे ही पवन सिंह ने गाना शुरू किया. मौजूद भीड़ बेकाबू हो गई, कुछ तो उनपर पथराव करने लगे. इसके बाद पवन सिंह ने एक दो गाने गाये और वहां से चलते बने.
Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

जिस समय मंच पर पवन सिंह पर पथराव हुआ. वह एक गाना गा रहे थे. जिसके बाद उन्होंने गाना गाना बंद कर दिया. फिर उन्होंने कहा कि – “देखो हमको चोट लाग जाई तो कौनो बात नाहीं के, लेकिन कितने लोगों के करोड़ों रुपये डूब जाई. तो प्लीज अगर ये करना है तो फिर सामने मैं नहीं आऊंगा. प्लीज सॉरी माफी चाहता हूं.”  पवन आगे बोले कि -“आप लोगों से हाथ जोड़कर विनती बा, ये पथराव करने से क्या मिलने वाला है. एक कलाकार किसी एक का नहीं होता है. कलाकार सब के लिए होता है. सब के लिए मैं हूं मेरे लिए सब हैं. आप भगवान हैं.”
इसके बाद उन्होंने कहा कि -“जिसकी शूटिंग चल रहा है. उसका शूटिंग रुक जाएगा.  भईया हो. आपके दुलार ने पवन सिंह को पवन सिंह बनाया. ऐसा क्यूं होता है. ऐसा क्यों हो रहा है. ये कौन सा रिवाज चालू हो गया. समझ में नहीं आ रहा. कलाकार का कोई जाति नहीं होता है.”  हालांकि पवन सिंह ने दोबारा गाना शुरू किया लेकिन लोग नहीं माने. हंगामा जारी रहा तो पवन सिंह ने मंच से कहा-‘ हाथ जोड़कर विनती है भईया एक कलाकार के लिए श्रोता भगवान होता है. बावजूद इसके लोगों का हंगामा जारी रहा और अंततः भीड़ के मिजाज को देखकर उन्हें मंच छोड़ना पड़ा.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.