By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बिहार सरकार आतंकी हमले में शहीद हुए संजय और रतन के परिवारवालों को देगी 36 -36 लाख की सहायता राशि

- sponsored -

बिहार सरकार की ओर से पुलवामा हमले में शहीद जवान संजय कुमार सिन्हा और रतन कुमार ठाकुर के परिवारवालों को ये सहायता राशि दी जाएगी.

Below Featured Image

-sponsored-

बिहार सरकार आतंकी हमले में शहीद हुए संजय और रतन के परिवारवालों को देगी 36-36 लाख की सहायता राशि

सिटी पोस्ट लाइव : जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 42 जवान शहीद हुए हो गए. इनमें बिहार के दो सपूतों ने भी अपनी शहादत दी है. दोनों शहीदों का पार्थिव शरीर आज सुबह करीब 9.30 बजे सुबह पटना एयरपोर्ट लाया गया. जिसके बाद वहां मौजूद लोगों की ऑंखें नम हो गई. लोगों ने वीर शहीद अमर रहें के नारों से जयघोष किया. वहीँ बिहार सरकार की ओर से शहीदों के परिजनों को सहायता राशि दी जाएगी. बिहार सरकार की ओर से पुलवामा हमले में शहीद जवान संजय कुमार सिन्हा और रतन कुमार ठाकुर के परिवारवालों को  36 -36 लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान किया गया  है. ये सहायता राशि वर्तमान में 11 लाख रुपये के मुआवजे के प्रावधान के साथ अतिरिक्त 25-25 लाख रुपये दिए जाएंगे. आज ही सीएम नीतीश ने घोषणा की है कि शहीदों के परिवार की सहायता के लिए सरकार नए नियम बनाएगी. उन्होंने कहा था कि पुराने नियमों के अलावा भी शहीदों के परिजनों को मदद दी जाएगी. इसके साथ ही शहीदों की बेटियों की शादी की खर्च भी बिहार सरकार उठाएगी.

झारखंड के शहीद हुए सपूत विजय सोरेन का भी पार्थिव देह पटना एयरपोर्ट पर उतारा गया. इन्हें गार्ड ऑफर ऑनर दिया गया. इसमें सेना के अधिकारियों के साथ राज्यपाल लालजी टंडन सीएम नीतीश कुमार समेत बिहार के डिप्टी सीएम और कई मंत्री भी शामिल रहे. बता दें जम्मू-कश्मीर के पुलवामा हमले में 42 जवानों की शहादत से पूरे बिहार के लोग गुस्से में हैं. नेता, अधिकारी से लेकर आम लोग, बच्चे, बुजुर्ग और नौजवान सभी इसका बदला चाहते हैं. मुजफ्फरपुर के एक मुस्लिम संगठन ‘हक ए हिंदुस्तान कमेटी’ के संयोजक तमन्ना हाशमी ने इसी क्रम में ऐलान किया है कि आतंकी अजहर मसूद और पाकिस्तान के पीएम इमरान खान का सिर कलम करके लाने वाले शख्स को संगठन 50 करोड़ का इनाम देगा. कमेटी के कार्यकर्ताओं ने पाकिस्तान के खिलाफ उग्र प्रदर्शन किया. कमेटी ने मसूद और इमरान खान की तस्वीरों के साथ पाकिस्तान के खिलाफ नारेबाजी की और दोनों के ऊपर जूते बरसाए. बाद में पाक झंडा के साथ दोनों के पुतलेनुमा सिर को आग के हवाले कर दिया. सभी का कहना है कि भारत सरकार इस हमले का करारा जबाब दे.

Also Read

-sponsored-

आपको बता दें कि  शुक्रवार को भारी सुरक्षा के बीच जम्‍मू-कश्‍मीर से पार्थिव शरीर को दिल्‍ली लाया गया था. दिल्ली के पालम एयरपोर्ट पर सभी जवानों के पार्थिव शरीर को रखा गया. जहां तीनों सेना के अध्यक्षों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.