By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

गया पुल अंडरपास सकरा होने के कारण वहां हमेशा जाम की स्थिति बनी रहती है: सांसद

Above Post Content

- sponsored -

जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट (डीएमएफटी) के फंड से गया पुल का चौड़ीकरण किया जाना चाहिए। इसके लिए रेलवे से भी अनापत्ति प्रमाण पत्र मिल गया है।

Below Featured Image

-sponsored-

गया पुल अंडरपास सकरा होने के कारण वहां हमेशा जाम की स्थिति बनी रहती  है:  सांसद
सिटी पोस्ट लाइव, धनबाद: जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट (डीएमएफटी) के फंड से गया पुल का चौड़ीकरण किया जाना चाहिए। इसके लिए रेलवे से भी अनापत्ति प्रमाण पत्र मिल गया है। गया पुल के चौड़ीकरण में खर्च होने वाली राशि को व्यय करने में डीएमएफटी सक्षम है। यह बातें सांसदपीएन सिंह ने कोयला नगर स्थित सामुदायिक भवन में आयोजित जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट के न्यास परिषद की बैठक में कहीं। उन्होंने कहा कि गया पुल अंडरपास बोटलनेक नुमा होने से वहां हमेशा जाम लगा रहता है। सांसद ने सिंदरी से धनबाद की दूरी को कम करने के लिए जोड़ाफाटक से आमटाल होते हुए सड़क निर्माण करने का भी सुझाव दिया। कहा कि इसके निर्माण से धनबाद झरिया के बीच शॉर्टेस्ट रूट स्थापित हो जाएगा। सांसद ने डीएमएफटी फंड से धनबाद शहर का सौंदर्यकरण, गोविंदपुर – बलियापुर तथा धनसर से नई दिल्ली होते हुए मटकुरिया की ओर जाने वाली सड़क पर स्ट्रीट लाइट लगाने एवं अपराध पर अंकुश लगाने के लिए सीसीटीवी कैमरा लगाने का भी सुझाव दिया। साथ ही उन्होंने पिट वॉटर को घर-घर तक पहुंचाने का सुझाव दिया।
इस अवसर पर उपायुक्त अमित कुमार ने कहा कि जिले के विकास के लिए जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट के सभी सदस्यों को ट्रस्टीशिप के रूप में काम करना है जिससे जिला का चौमुखी विकास किया जा सके। इसके लिए सबकी सक्रिय भागीदारी और आपसी विश्वास बहाल करे। पेयजल की समस्या का समाधान करने के लिए सभी सार्थक पहल करें। उन्होंने कहा कि डीएमएफटी की अब तक की जितनी भी योजनाओं का क्रियान्वयन किया गया है उसे वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है। शीघ्र ही हर योजना पर एक बुकलेट भी तैयार की जाएगी। जिससे जिले के विकास का मूल्यांकन किया जा सके।
उपायुक्त ने सभी सदस्यों को प्रक्रिया का पालन कर योजना का चयन करने का सुझाव दिया। साथ ही कहा कि योजना का चयन प्राथमिकता के आधार पर करें। उन्होंने कहा कि सरकार की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाएं चल रही है। इसलिए डीएमएफटी में वैसी योजना को शामिल नहीं कर, अन्य अति महत्वपूर्ण योजनाओं का लिखित चयन कर ग्राम सभा के माध्यम से उसे पारित करें। कार्यक्रम में विधायक मथुरा प्रसाद महतो ने कहा कि कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी फंड से पेयजल, शौचालय, तालाबों की खुदाई, तालाब का जीर्णोद्धार किया जाना चाहिए। उन्होंनेकहा डीएमएफटी फंड की राशि से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को विकसित कर स्वास्थ्य सेवा को और बेहतर बनाना चाहिए। साथ ही सुदूरवर्ती क्षेत्रों की सड़कों को ठीक करना चाहिए। विधायक इंद्रजीत महतो ने कहा कि जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट का उद्देश्य समाज का उत्थान और जन कल्याणकारी कार्य करना है। इसके फंड से जो विकास होगा उससे ज्वलंत समस्या का निराकरण होगा। उन्होंने हीरक रोड पर 3 किलोमीटर जर्जर सड़क को इस फंड से बनाने का सुझाव दिया। कहा कि इसके बन जाने से सिंदरी और धनबाद के बीच की दूरी कम होगी। साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों के चौक चौराहों पर स्ट्रीट लाइट लगाने तथा रेजलिबांध तालाब का जीर्णोद्धार करने का भी सुझाव दिया। कार्यक्रम में उपस्थित झरिया की विधायक पूर्णिमा नीरज सिंह ने कहा कि डीएमएफटीहमारा विशेषाधिकार है। इसकी राशि के उपयोग में विशेष ध्यान देना होगा और धैर्य भी रखना होगा।
उन्होंने कहा कि इस राशि से जिले को बेहतर बनाने का प्रयास किया जाएगा। जिससे लोगों के जीवन में सुधार होगा। उन्होंने योजना की राशि को मूलभूत सुविधाओं में व्यय करनेका सुझाव दिया। जिला परिषद अध्यक्ष रोबिन चंद्र गोराई ने कहा कि डीएमएफटी की राशि से ग्रामीण क्षेत्र के विकास पर भी ध्यान देना चाहिए। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र के चौक चौराहों पर एलइडी स्ट्रीट लाइट लगाने का सुझाव दिया। जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट के न्यास परिषद की बैठक में सांसद पीएन सिंह, विधायक मथुरा प्रसाद महतो, विधायक पूर्णिमा नीरज सिंह, विधायक इंद्रजीत महतो, जिप अध्यक्ष रोबिन चंद्र गोराई, उपायुुक्त अमित कुमार, एसएसपी किशोर कौशल, डीडीसी बाल किशुन मुंडा, निदेशक जिला ग्रामीण विकास अभिकरण संजय कुमार भगत, सिविल सर्जन डॉ. गोपाल दास, जिला खनन पदाधिकारी निशांत कुमार, जिला शिक्षा पदाधिकारी अलका जयसवाल, जिला योजना पदाधिकारी श्री महेश भगत, विभिन्न पंचायतों के प्रमुख, उप प्रमुख, मुखिया शामिल थे।

 

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.