By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

गिरिराज सिंह बोलें-कुछ फ़िल्मी अभिनेता देश में हिंदुत्व को बदनाम कर रहे हैं

- sponsored -

सिटी पोस्ट लाइव- भारतीय जनता पार्टी के फायर ब्रिगेड नेता गिरिराज सिंह ने एक बार फिर से हिंदुत्व को लेकर फ़िल्मी कलाकारों पर जोरदार हमला बोला बोला है. उन्होंने इन अभिनेताओं पर निशाना साधते हुए कहा है कि कमल हासन, नसरूद्दीन शाह और आमिर खान हिन्दू धर्म और हिंदुत्व को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं.

-sponsored-

गिरिराज सिंह बोलें-कुछ फ़िल्मी अभिनेता देश में हिंदुत्व को बदनाम कर रहे हैं

सिटी पोस्ट लाइव- भारतीय जनता पार्टी के फायर ब्रिगेड नेता गिरिराज सिंह ने एक बार फिर से हिंदुत्व को लेकर फ़िल्मी कलाकारों पर जोरदार हमला बोला बोला है. उन्होंने इन अभिनेताओं पर निशाना साधते हुए कहा है कि कमल हासन, नसरूद्दीन शाह और आमिर खान हिन्दू धर्म और हिंदुत्व को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं. ये सभी एक सोची-समझी रणनीति के तहत हिदुत्व को बदनाम करने पर तुले हुए हैं. उन्होंने कहा कि हमें यह समझ में नहीं आता है कि क्यों हिन्दुओं के प्रति ये घृणा फैलाने की कोशिश कर रहे हैं.

गिरिराज सिंह ने कहा कि हामिद अंसारी कहते हैं भारत में अजीब सा लग रहा है. कमल हासन ने तो हिंदुओं को आतंकी कह डाला. गिरिराज ने कहा कि मेरा सवाल है कि देश में हिन्दुओं को आपसे या आपकी कौम से घृणा होती तो आप सभी सिने कलाकार सुपर स्टार न बनते. हिंदू अगर घृणा करते तो आपकी फिल्में न देखते. उन्होंने कमल हासन पर निशाना साधते हुए कहा कि आप जिस पत्तल में खाते हो, उसी में छेद करते हैं.

Also Read

-sponsored-

दरअसल तमिलनाडु में चुनाव प्रचार करते हुए कमल हासन  ने कहा कि आजाद भारत का पहला आतंकवादी एक हिंदू था. महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे की ओर इशारा करते हुए हासन ने कहा कि वह एक हिन्दू आतंकी था. चुनावी मुद्दे के संदर्भ में गिरिराज ने कहा कि बीजेपी देश में मुद्दों पर ही बात करती है लेकिन इसको लेकर जिस तरीके से सेक्यूलरिज्म के नाम पर गालियां दी जाती है वो जायज नहीं है. मैं सनातन धर्म की बात करता हूं तो लोग मुझे गालियां देते हैं. देश में जो कट्टरपंथी हैं वो हावी हो रहे हैं और हिन्दुओं को बदनाम किया जा रहा है.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मैं हिन्दुत्व की बात करता हूं तो मेरे पर केस किया जाता है. राम मंदिर का जिक्र करते हुए गिरिराज ने कहा कि राम मेरे कण-कण में हैं और हम राम मंदिर बनाने में अगर शिया का सहयोग पा रहे हैं तो इसके साथ सुन्नियों का भी सहयोग चाहते हैं. अगर उनका सहयोग नहीं मिलेगा तो मुझे दुख होगा. राम मंदिर के लिए यहां के मुसलमानों को सोचना पड़ेगा क्योंकि देश का बंटवारा धर्म के नाम पर हुआ था और आप इस देश में 3 करोड़ से 30 करोड़ हो गए लाखों मस्जिद बन गए. गिरिराज ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि योगदान नहीं करने वाले अल्पसंख्यकों के विरुद्ध क्या करना है ये हम सोचेंगे.

आपको बता दें कि बीजेपी के नेता राममन्दिर बनाने पर कई बार बयान दे चुके हैं. लेकिन नरेन्द्र मोदी कि सरकार चुनाव में इस मुद्दे को कहीं नही उठाते दिख रही है तथा इस बार वह अपने चुनावी सभाओं में राष्ट्रवाद कि बात करते दिख रही है. मतलब साफ़ है कि बीजेपी इस बार पुलवामा हमले और राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर ही चुनाव लड़ रही है और विरोधियों को भी इसी मुद्दे पर घेरती नजर आ रही है.
                                                                                                                                                                      जे.पी.चंद्रा की रिपोर्ट

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.