By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

2 दिन में 4 लोगों की संदिग्ध मौत से हडकंप, ग्रामीण बोले- जहरीली शराब है कारण.

;

- sponsored -

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार के रोहतास (Rohtas) के करगहर और परसथुआ इलाके में पिछले दो दिनों में चार लोगों की संदिग्ध रूप से मौत हो गई है और दो लोगों की आँख की रौशनी चली गई है.अंधे हो चुके एक शख्स द्वारा शराब पीने की बात स्वीकार किये जाने के बाद ईलाके में हडकम्प मच गया है.लोगों का कहना है कि चार लोगों की मौत भी जहरीली शराब के सेवन से हुई है.

करगहर थाना क्षेत्र के बहुआरा और खरेज के साथ परसथुआ ओपी क्षेत्र के भगवानपुर व बसतलवा में लोगों की मौत हुई है. मृतकों में एक जन वितरण प्रणाली का दुकानदार भी है. वहीं, दिनारा के रहने वाले पशु चिकित्सक विपिन सिंह की भी संदिग्ध परिस्थिति में ही मौत हुई है. पिछले दो-तीन दिनों में चार लोगों की मौत से इलाके में सनसनी फैली हुई है. मरने वालों में बहुआरा के दीपक सिंह, बसतलवा गांव के पीडीएस डीलर सुदामा नाम, भगवानपुर गांव में रह रहे दिनारा के विश्रामपुर गांव के निवासी विपिन सिंह और खरेज गांव के अरुण सिंह शामिल हैं. सबसे बड़ी बात है कि भगवानपुर गांव के विजय सिंह और शोभीपुर के सुरेंद्र पाल की आंख की रोशनी चली गई है.

दिनारा के बिश्रामपुर के रहने वाले विपिन सिंह के शव का पुलिस ने पोस्टमार्टम भी कराया है. इसके अलावा बसतलवा के पीडीएस डीलर सुदामा राम के भाई जगदीश राम ने बताया कि उनके भाई तो शराब पिया करते थे और मौत से कुछ दिन पहले उन्होंने शराब पी थी. अचानक उनकी तबीयत बिगड़ी तो उन्हें डॉक्टर के पास ले जाया गया, जहां उनकी मौत हो गई. गांव के लोगों का कहना है  कि करगहर थाना क्षेत्र के बहुआरा, तेंदूनी, लोकनाथपुर, धनेज आदि इलाके में खुलेआम शराब की बिक्री होती है. ग्रामीण कहते हैं कि शराब पीने से इलाके में लगातार मौतें हो रही हैं. यही नहीं, अलग-अलग गांव में अलग-अलग समय पर संदिग्ध परिस्थिति में लोगों की मौत हुई है. इस मामले में फिलहाल कोई भी प्रशासनिक पदाधिकारी कुछ भी कहना नहीं चाह रहा है.

;

-sponsored-

Comments are closed.