City Post Live
NEWS 24x7

अगर ग्रामीणों के समस्या का समाधान नही हुआ तो अपने ही सरकार के खिलाफ अनशन पर बैठूंगा-विधायक कुमार शैलेन्द्र

If the problem of the villagers is not resolved then I will sit on hunger strike against my own government- MLA Kumar Shailendra

- Sponsored -

- Sponsored -

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव – बीजेपी विधायक कुमार शैलेन्द्र 12 जून को एक सभा को सबोधित कर रहे थे और मोदी जी के 8 वर्षो के कार्यो को गिना रहे थे इस बीच   गांव में हो रही समस्या से समधान नही मिलने पर  ग्रामीण गुसा हो गये और उनको बंधक बना लिया इसके बाद विधायक ने फैसला लिया कि वो अपने ही सरकार के खिलाफ धरने पर बैठेंगे भागलपुर के बिहपुर विधानसभा से बीजेपी विधायक ई.शैलेंद्र कुमार ने कहा कि मैं आज भागलपुर के जिलाधिकारी से बात करुंग।

 

ग्रामीणों को काफी समझाने का प्रयास किया।

उनको तुरंत कार्य शुरू करने की बात करुंगा। अगर बात नहीं बनी तो जल्द ही एनडीए यानी खुद की सरकार के खिलाफ अनशन करुंगा। विधायक ई.शैलेंद्र ने कहा कि मैंने ग्रामीणों को काफी समझाने का प्रयास किया। उनको विधानसभा में उठाए सभी प्रश्नों का वीडियो भी दिखाया। पर वे लोग मामने को तैयार नहीं थे। इसके बाद मैंने एसपी नवगछिया से बात की। उन्होंने एसडीपीओ और नवगछिया के सभी थानाध्यक्ष को भेजा। इसके बाद मैं वहां से मुक्त हुआ हूं।

 

विधायक ने बताया कि मुझे बैठने के लिए बिछावन

विधायक ने कहा कि मैं हमेशा लोगों के बीच रहता हूं। उनकी समस्या का निराकरण करता हूं। पर पता नहीं लोग क्यों रीजिड हो गए। उनमें से कुछ लोग कम्यूनिस्ट माइंड सेट के थे। अंत में तंग आकर मैंने कहा कि अब मैं ही अनशन पर बैठ जाउंगा। विधायक शैलेंद्र कुमार को उग्र ग्रामीणों ने एक स्कूल के कमरे में बंद कर दिया है। विधायक ने बताया कि मुझे बैठने के लिए बिछावन, तकिया और पंखा भी दिया है। इस दौरान विधायक ने बार-बार समझाने की काफी कोशिश की। पर वे लोग नहीं माने। इसके बाद नवगछिया एसपी से बात कर सारी घटना की जानकारी दी। नवगछिया से एसडीपीओ व अन्य पुलिस बल को भेजा गया। इसके बाद देर शाम उनको ग्रामीणों से मुक्त कराया गया। इस बात की जानकारी विधायक ने अपने फेसबुक पेज पर भी दी है।

-sponsored-

- Sponsored -

Subscribe to our newsletter
Sign up here to get the latest news, updates and special offers delivered directly to your inbox.
You can unsubscribe at any time

-sponsored-

Comments are closed.