By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

गोपालगंज में पति का श्राद्ध करने के लिए भीख मांगते दिखी महिला, परिवार वाले नही दे रहे है साथ |

In Gopalganj, a woman was seen begging to perform Shradh for her husband, the family members are not giving support.

HTML Code here
;

- sponsored -

महिला को कोई संतान नहीं है। परिवार के अन्य सदस्य भी इस दुख की घड़ी में साथ नहीं दे रहे। कलावती के अनुसार उनके पास पहले अपना खेत था।

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव – गोपालगंज की एक वृद्ध महिला  हफ्ते भर से अपने पति के श्राद्ध के लिए घूम घूमकर भीख मांग रही है पति का अंतिम संस्कार भी स्थानीय मुखिया से मिले रुपयों से किया जानकारी के अनुसार महिला कलावती देवी सदर प्रखंड के बिशुनपुर गांव की रहनेवाली है। उसके पति सुदामा महतो की 3 साल की बीमारी के बाद हाल ही में मौत हो गई थी।

 

पति खेती कर भरणपोषण करते थे।

महिला को कोई संतान नहीं है। परिवार के अन्य सदस्य भी इस दुख की घड़ी में साथ नहीं दे रहे। कलावती के अनुसार उनके पास पहले अपना खेत था। पति खेती कर भरणपोषण करते थे। जिंदगी सही से कट रही थी, लेकिन बच्चे नहीं होने का दुःख सता रहा था। फिर 3 साल पहले पति को पैरालाइसिस हो जाने के कारण वे बेड पर पड़ गए। इस बीच पाटीदारों ने खेत हड़प लिया।

 

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

शरीर भी साथ छोड़ता गया।

अब उसके ऊपर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा, लेकिन वह दूसरों के खेतों में काम कर खुद और पति का पेट पालने लगी। पति का इलाज भी करवाने लगी, लेकिन जैसे-जैसे उमर बढ़ती गई, शरीर भी साथ छोड़ता गया। इसी बीच पति कि एक हफ्ता पहले मृत्यु हो गयी पैसे नही पति का दाह संस्कार करने के लिए तो गाव के मुखिया  विश्वनाथ जायसवाल ने उसे अबीर अंत्येष्टि योजना के तहत दाह संस्कार के लिए 3 हजार रुपए दिए। इससे पति का दाह संस्कार तो हो गया लेकिन अब उसके सामने श्राद्ध कर्म की चिंता सताने लगी। कोई चारा न देख कलावती सड़कों पर निकल गई और भीख मांगना शुरू कर दिया।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.