City Post Live
NEWS 24x7

राजधानी पटना में CTETऔर BTET के अभ्यर्थी सड़क पर उतर जॉब की मांग पर अर्धनग्न होकर प्रदर्शन करते नज़र आए |

In the capital Patna, the candidates of CTET and BTET were seen performing semi-naked on the road demanding jobs.

- Sponsored -

-sponsored-

- Sponsored -

सिटी पोस्ट लाइव –  राजधानी पटना में आए दिन CTET और BTET के के छात्र आए दिन अलग – अलग प्रदर्शन कर रहे है कभी हाथ में कटोरा लेके तो कभी बीजेपी कार्यालय में जाके  छात्रो का कहना की वे लोग 2019 के बैच के है एग्जाम देके के बैठे है लेकिन अब तक उनकी बहाली नही हुई है |

 

 

वही आज CTET और BTET के के छात्र राजधानी पटना के आयकर चौराहे पर जॉब की मांग पर  सड़क पर उतर गए। सिर पर काले रंग की पट्टी बांध खड़े हो गए। उनका कहना था कि जब तक नौकरी नहीं, तब तक प्रदर्शन करते रहेंगे। अभ्यर्थी पिछले 8 दिनों से लगातार अलग-अलग तरीके से प्रदर्शन कर रहे हैं।बीते दिनों अभ्यर्थी सड़कों पर भीख मांगते भी नजर आए थे इसके बाद आज फिर से प्रदर्शन में सड़कों पर अर्धनग्न होकर पहुंच गए। उन्होंने इस दौरान आयकर गोलंबर पर शिक्षा मंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने शिक्षा मंत्री का पुतला भी फूंक दिया।लोग सातवें चरण की बहाली की मांग कर रहे हैं। वे सीटीईटी और बीटीईटी के अभ्यर्थी हैं और 3 साल पहले ही क्वालीफाई होने के बावजूद आज तक सड़कों पर बेरोजगार भटक रहे हैं। उन्हें नौकरी नहीं दी जा रही है। वह बीते 8 दिनों से लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं।

 

 

सरकार फिर भी सुन नहीं रही है। वे गरीब घर के लड़के हैं। खेत बेच के पढ़ाई की है, लेकिन नियुक्ति नहीं की जा रही। उनके पास अब पैसे नहीं हैं कि कपड़े खरीदें। इसकी वजह से आधे कपड़ों में नौकरी की मांग करने के लिए सड़कों पर उतरे हैं।वहीं, दूसरे अभ्यर्थी सिद्धार्थ कश्यप ने बताया कि उनके पास रोजगार नहीं है। खाना नहीं है, पहनने को कपड़े नहीं हैं। इसीलिए अर्धनग्न होकर प्रदर्शन कर रहे हैं। आज यही जान दे देंगे लेकिन नौकरी लेकर ही जाएंगे। कहा कि हम 1 से लेकर 8 तक प्रारंभिक शिक्षक बहाली की मांग कर रहे हैं। मांग को जल्द से जल्द पूरा किया जाए।

- Sponsored -

-sponsored-

Subscribe to our newsletter
Sign up here to get the latest news, updates and special offers delivered directly to your inbox.
You can unsubscribe at any time

-sponsored-

Comments are closed.