By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

तेजस्वी यादव को JDU नेता का ऑफर, ज्वाइन करें बिहार सरकार की ऑनलाइन क्लास

;

- sponsored -

कोरोना संकट के बीच बिहार में सियासत खूब चल रही है.पक्ष विपक्ष एक दुसरे पर लगातार निशाना साध रहे हैं.अब सत्ताधारी दल ने अपने नेता नीतीश कुमार पर लगातार हमला करनेवाले RJD नेता तेजस्वी यादव को एक बड़ा ऑफर दे दिया है.

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

तेजस्वी यादव को JDU नेता का ऑफर, ज्वाइन करें बिहार सरकार की ऑनलाइन क्लास

सिटी पोस्ट लाइव : कोरोना संकट के बीच बिहार में सियासत खूब चल रही है.पक्ष विपक्ष एक दुसरे पर लगातार निशाना साध रहे हैं.अब सत्ताधारी दल ने अपने नेता नीतीश कुमार पर लगातार हमला करनेवाले RJD नेता तेजस्वी यादव को एक बड़ा ऑफर दे दिया है. जेडीयू प्रवक्ता निखिल मंडल (JDU spokesman Nikhil Mandal) ने तेजस्वी यादव से आग्रह किया है कि वे बिहार सरकार द्वारा चलाई जा रही ऑनलाइन स्टडी क्लास ज्वाइन कर लें जिससे उनका गणित ठीक हो जाएगा.

जेडीयू प्रवक्ता ने कहा, तेजस्वी यादव जी, आपकी पढ़ाई को लेकर हमेशा से सवाल उठते रहे हैं. आपने अभी तक मैट्रिक की परीक्षा भी पास नहीं की है. आप बिहार के नेता प्रतिपक्ष हैं इसलिए आपका शिक्षित होना बेहद ज़रूरी है. तभी तो आप सही आंकड़े और तथ्य के साथ सत्तापक्ष पर आरोप लगा सकते हैं.उन्होंने आगे कहा, तेजस्वी जी, कभी आप बिहार के बाहर रहने वाले मजदूरों के आंकड़े गलत देते हैं तो कभी ट्रेनों की संख्या गलत देते हैं. आपकी गणित काफी कमजोर है. आप जैसे लोगों के लिए ही हमारी सरकार ने ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था की है. किताब भी अपलोड कर दिया गया है. आप तो लॉकडाउन में घर पर आराम कर रहे हैं. इसका फायदा उठाते हुए मैट्रिक की पढ़ाई पूरी कर लें.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

गौरतलब है कि तेजस्वी यादव को ये ऑफ़र जेडीयू प्रवक्ता निखिल मंडल ने तब भेजा है जब तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर ये कहते हुए  हमला किया कि देश में ट्रेनों की संख्या ज़्यादा हैं तो ज़्यादा से ज़्यादा ट्रेन चला कर अप्रवासी बिहारी मजदूरों को बिहार लाया जाए. दरअसल तेजस्वी यादव ने ट्रेनों की संख्या 12000 बताई है जबकि निखिल मंडल ने रेलवे का आंकड़ा देकर कहा कि ट्रेनों की संख्या 20000 के आसपास है. इसके पहले भी तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर बिहारी कामगारों का जो आंकड़ा पेश किया था उसमें चार तरह के आंकड़े दिए गए थे. इस पर भी जेडीयू ने पलटवार किया था.

बहरहाल जेडीयू के ऑफर पर राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने पलटवार करते हुए कहा, नीतीश जी इंजीनियर हैं. सुशील मोदी जी के साथ साथ बिहार सरकार के कई मंत्री भी काफी पढ़े- लिखे हैं. लेकिन, इन सब के बावजूद बिहार की जनता का ना तो दर्द समझ पा रहे हैं और ना ही बिहार का विकास. हमारे तेजस्वी जी जनता के दिल की पढ़ाई करते हैं. जेडीयू नेताओं जैसे स्वार्थ की पढ़ाई नहीं.उन्होंने कहा कि तेजस्वी जी के उठाए सवाल का कोई जवाब नहीं मिल रहा है तो जेडीयू और बीजेपी के नेताओ को तो बात को बदलने की कोशिश कर रहे हैं. लेकिन,  बिहार की जनता सब देख रही है. बहरहाल कोरोंना संक्रमण के बीच भी बिहार में सियासी तापमान लगातार गर्म होता जा रहा है और ऐसी बयानबाजियों का सिलसिला अभी लंबा चलने वाला है.

;

-sponsored-

Comments are closed.