By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

भारतीय नौसेना के पूर्व कैप्टन बंसल का व्याख्यान 8 को, तैयारियों में जुटा बोकारो

Above Post Content

- sponsored -

रक्षा विशेषज्ञ एवं भारतीय नौसेना के पूर्व कैप्टन व इंडिया फाउंडेशन के डायरेक्टर कैप्टन (सेवानिवृत्त) आलोक बंसल आगामी 8 फरवरी को बोकारो पहुंच रहे हैं।

Below Featured Image

-sponsored-

भारतीय नौसेना के पूर्व कैप्टन बंसल का व्याख्यान 8 को, तैयारियों में जुटा बोकारो

सिटी पोस्ट लाइव, बोकारो: रक्षा विशेषज्ञ एवं भारतीय नौसेना के पूर्व कैप्टन व इंडिया फाउंडेशन के डायरेक्टर कैप्टन (सेवानिवृत्त) आलोक बंसल आगामी 8 फरवरी को बोकारो पहुंच रहे हैं। उस दिन यहां शाम 6.00 बजे से सेक्टर-5 स्थित बोकारो क्लब में उनका विशेष व्याख्यान आयोजित किया जाएगा। जम्मू-कश्मीर स्टडी सेंटर के बोकारो चैप्टर के तत्वावधान में आयोजित इस कार्यक्रम में कैप्टन बंसल पाक और चीन अधिक्रांत लद्दाख और जम्मू-कश्मीर पर व्याख्यान देंगे। गिलगिच और बाल्टिस्तान पर किताबें लिखने वाले कैप्टन बंसल इन दोनों हिस्सों की भारत के लिए अहमियत पर चर्चा करेंगें। इस आशय की जानकारी शनिवार को यहां सेक्टर-2 स्थित लोकनायक सभागार परिसर में आयोजित एक बैठक में संगठन के बिहार-झारखंड प्रमुख एवं सेवानिवृत्त मुख्य वैज्ञानिक (सिम्फर, धनबाद) डॉ. वीरेन्द्र कुमार सिंह ने दी। उन्होंने कहा कि गिलगित और बाल्तिस्तान भारत का ही अंग है। इस पर भी हमारा हक है।
उन्होंने बताया कि वर्ष 1940 के बाद पहली बार धारा 370 और 35ए हटने के बाद सही रूप में जम्मू-कश्मीर का नक्शा जारी हुआ है। इस दिशा में उन्होंने सरकार के प्रयासों को सराहते हुए आगे का अधिकार प्राप्त करने पर बल दिया। बैठक में मुख्य रूप से उपस्थित संगठन के झारखंड प्रदेश सचिव एवं वरिष्ठ पत्रकार इंद्रजीत प्रसाद सिंह ने कहा कि गिलगित और बाल्टिस्तान हमारे देश का ही अंग है। इसे भी अब प्राप्त करने को लेकर प्रयास किए जाने चाहिए और इसी दिशा में जम्मू-कश्मीर स्टडी सेंटर की ओर से लगातार जनजागरुकता अभियान चलाया जा रहा है। इस मसले पर देशवासियों को जानकारी जरूरी है। इसी उद्देश्य से 7 फरवरी को जमशेदपुर, 8 को बोकारो और 9 को रांची में मामले के विशेषज्ञ कैप्टन बंसल का व्याख्यान सुनिश्चित हुआ है। बैठक में आयोजन को सफल बनाने पर विचार-विमर्श किया गया। मौके पर कुणाल रंजन, नरेन्द्र कुमार राय, राजेश कुमार, अशोक सिन्हा, सुशील कुमार, राजकुमार सिंह, कौशल किशोर राय, मनोज कुमार, विजय नाथ कुंवर, प्रत्युष कुमार शांडिल्य, राजेश प्रसाद आदि मौजूद रहे।

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.