By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

लॉकडाउनः गरीबों की सेवा के साथ झारखंड पुलिस चला रही नक्सली सफाई अभियान

;

- sponsored -

लोक डाउन के दौरान झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम (चाईबासा) जिला के गुदड़ी थाना क्षेत्र चिराग रेडा की पहाड़ियों पर सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई।

-sponsored-

-sponsored-

लॉकडाउनः गरीबों की सेवा के साथ झारखंड पुलिस चला रही नक्सली सफाई अभियान

सिटी पोस्ट लाइव, रांची: झारखंड पुलिस कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर लॉक डाउनलोड में जहां 24 घंटे सड़कों पर तैनात होकर लोगों का सहयोग कर रही है। वहीं नक्सल प्रभावित इलाकों में पुलिस और सीआरपीएफ संयुक्त रूप से नक्सलियों के विरुद्ध अभियान भी चला रही है।  गरीब और लाचार लोगों को पूरे राज्य के थानों में बने लगभग 300 सामुदायिक रसोई केंद्र में गरीब और लाचार लोगों को पुलिस भोजन करा रही है। पुलिस सूत्रों के अनुसार लगभग 40 हजार लोगों को राज्य में बने पुलिस सामुदायिक रसोई केंद्र में भोजन खिलाया जा रहा है।

नक्सलियों के खिलाफ सर्च अभियान में मिली सफलता

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

लोक डाउन के दौरान झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम (चाईबासा) जिले के गुदड़ी थाना क्षेत्र के टोनडेल पंचायत चिरूंग रैदा गांव में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई। पुलिस नक्सली मुठभेड़ में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। इस मुठभेड़ में तीन महिला नक्सली ढेर हो गए। पुलिस ने तीनों महिला नक्सली का शव भी बरामद कर लिया है। फिलहाल उनकी पहचान नहीं हो सकी है। वहीं पुलिस ने दो हथियार बरामद किया है, जिसमें एक थ्री नोट थ्री जबकि दूसरा देशी राइफल शामिल है। मुठभेड़ के बाद सीआरपीएफ और पुलिस संयुक्त रूप से जंगल में सर्च अभियान चला रही है। फिलहाल चाईबासा एसपी, खूंटी एसपी घटनास्थल पर मौजूद है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार नक्सलियों के जंगल में छिपे होने की सूचना मिली थी। जिसके बाद जिला पुलिस और सीआरपीएफ बटालियन ने योजनाबद्ध तरीके से कार्रवाई शुरू की। दोनों तरफ से शुरू हुई इस कार्रवाई में सीआरपीएफ बटालियन से नक्सलियों का दस्ता आमने- सामने हुआ। जिसके बाद दोनों तरफ से फायरिंग शुरु हुई। मुठभेड़ के दौरान तीन महिला नक्सली को मार गिराया गया। नक्सली खुद को कमजोर देखकर फायदा उठा कर मौके से भाग गए। पहले जवानों ने माओवादियों को सरेंडर करने को कहा कि लेकिन अपने को घिरा देख माओवादियों ने सरेंडर करने के बजाय जवानों पर फायरिंग शुरू कर दी, जवाबी कार्रवाई में जवानों ने भी फायरिंग की,जवानों के फायरिंग में तीन नक्सली ढेर हो गए। मारे गए तीनों नक्सली महिला हैं। पुलिस और सीआरपीएफ जवानों को भारी पडता देख माओवादी अपने महिला नक्सलियों का शव छोड भाग निकले। मौके पर जवानों ने भारी मात्रा में माओवादियों के हथियार और विस्फोटक और वॉकी-टॉकी सहित अन्य सामान बरामद किया है।

माओवादी जोनल कमांडर जीवन कंडुलना के दस्ते के सुरेश मुंडा और 25-30 माओवादी के साथ हुई है। माओवादी दस्ता इस क्षेत्र में आतंक फैलाएं हुए थे। लोग दहशत में थे, जिनका अबसफाया करने की प्रकिया झारखंड पुलिस ने शुरू कर दी है। झारखंड पुलिस के प्रवक्ता सह एडीजी अभियान मुरारी लाल मीणा ने बताया कि तीन महिला नक्सली मारी गई हैं। तीनों वर्दी में थे ,और हथियार भी बरामद किए गए हैं। फिलहाल सर्च अभियान जारी है।

क्या कहते हैं एसपी

चाईबासा एसपी इंद्रजीत महथा ने बताया कि गुदड़ी थाना क्षेत्र के टोनडेल पंचायत के अंतर्गत भाकपा माओवादी नक्सलियों के गतिविधि के संबंध में जानकारी मिली। सूचना के आधार पर जिला पुलिस, सीआरपीएफ 94, बटालियन की दो कंपनी सीआरपीएफ 60 बटालियन के तीन कंपनी और सीआरपीएफ 174 बटालियन की दो कंपनी के साथ क्षेत्र में नक्सलियों के खिलाफ संयुक्त सघन अभियान चलाया गया। छापामारी अभियान के दौरान नक्सलियों के बीच भीषण मुठभेड़ हुई ।जिसमें भाकपा माओवादी के 3 नक्सली मारे गए। मुठभेड़ के बाद उक्त स्थल पर से हथियार, गोलियां एवं आईईडी बम बरामद किया गया है। नक्सलियों के भागने के बाद आम सूचना संकलन कर सर्च अभियान चलाया जा रहा है।

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.