By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

रामकृपाल के लिए निरहुआ ने किया रोड शो, फिर एक बार मोदी सरकार का लगाया नारा

;

- sponsored -

अंतिम चरण के चुनाव के लिए प्रचार अभियान का आखिरी दौर चल रहा है और सभी स्टार प्रचारकों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है ताकि उनके प्रत्याशी भारी मतों से जीत सके. गुरुवार को भोजपुरी स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ जो आजमगढ़ से भाजपा के प्रत्याशी भी हैं, उन्होंने भाजपा प्रत्याशी रामकृपाल के लिए रोड शो किया.

-sponsored-

-sponsored-

रामकृपाल के लिए निरहुआ ने किया रोड शो, फिर एक बार मोदी सरकार का लगाया नारा

सिटी पोस्ट लाइव : अंतिम चरण के चुनाव के लिए प्रचार अभियान का आखिरी दौर चल रहा है और सभी स्टार प्रचारकों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है ताकि उनके प्रत्याशी भारी मतों से जीत सके. गुरुवार को भोजपुरी स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ जो आजमगढ़ से भाजपा के प्रत्याशी भी हैं, उन्होंने भाजपा प्रत्याशी रामकृपाल के लिए रोड शो किया. निरहुआ ने सगुणामोड से अपना रोड शो शुरू किया जो दानापुर, मनेर, बिहटा और शिवाला होते हुए पटना में जाकर समाप्त हुआ. निरहुआ के सगुना मोड़ पहुंचते ही उनके प्रशंसक और भाजपा कार्यकर्ता हजारों की संख्या में उन्हें देखने और सुनने के लिए जमा हो गए. रोड शो के दौरान निरहुआ ने लोगों से रामकृपाल के पक्ष में मतदान कर उन्हें पाटलिपुत्र सीट से जिताने की अपील करते हुए देश मे नरेंद्र मोदी की सरकार बनाने में मदद करने को कहा.

उन्होंने अपने फिल्मी अंदाज में रोड शो की शुरुवात की और हजारों की भीड़ का हाथ हिलाकर अभिवादन किया. निरहुआ ने भाजपा की जीत का दावा किया और दोबारा मोदी सरकार बनने की बात कही. इस दौरान लोग भाजपा का झंडा फहराते हुए जमकर मोदी मोदी के नारे लगाए.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

गौरतलब है कि 19 मई को पाटलिपुत्र सीट पर चुनाव है जहां से भाजपा के दिग्गज नेता रामकृपाल यादव जो कभी राजद परिवार के काफी करीबी हुआ करते थे, आज उसी परिवार की बड़ी बेटी मीसा भारती के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं. दोनों उम्मीदवारों में कांटे की टक्कर होने का अनुमान लगाया जा रहा है. हालांकि 2014 के चुनाव में रामकृपाल मीसा भारती को 40 हजार वोट से हरा चुके हैं और इस बार भी रामकृपाल और उनके स्टार प्रचारक मानते हैं कि पाटलिपुत्र से मीसा फिर हारेंगी और रामकृपाल को जनता भारी मतों से जिताएगी. वहीँ राजद भी इस बार अपनी जीत का दावा कर रही है. बहरहाल अंतिम चरण के चुनाव के लिए प्रचार अभियान के दौरान जनाधार जुटाने में लगे स्टार प्रचारक अपने अपने प्रत्याशियों के लिये कितने फायदेमंद साबित होते है ये तो 23 मई को ही पता चल पाएगा.

निशांत कुमार की रिपोर्ट

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.