By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

रामगढ़ में अब तक नहीं मिला पॉजिटिव केस, संदिग्धों को किया गया होम क्वॉरेंटाइन

;

- sponsored -

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए स्वास्थ्य कर्मियों की जंग लगातार जारी है। वह दिन-रात मरीजों को ठीक करने के लिए जद्दोजहद कर रहे हैं।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

रामगढ़ में अब तक नहीं मिला पॉजिटिव केस, संदिग्धों को किया गया होम क्वॉरेंटाइन

सिटी पोस्ट लाइव, रामगढ़: कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए स्वास्थ्य कर्मियों की जंग लगातार जारी है। वह दिन-रात मरीजों को ठीक करने के लिए जद्दोजहद कर रहे हैं। उनके द्वारा लगातार पूरे समाज को जागरूक भी किया जा रहा है। ऐसी स्थिति में उन्हें किसी भी स्तर पर परेशान नहीं किया जाए। यह बात बुधवार को डीसी संदीप सिंह ने कही। उन्होंने ट्वीट कर स्वास्थ्य कर्मियों को होने वाली परेशानी के बारे में बताया। उन्होंने सोशल मीडिया पर लोगों से यह अपील की है कि कोरोना से इस लड़ाई में सभी चिकित्सा पदाधिकारी, कर्मी, पारा मेडिकल, एएनएम, सहिया,आंगनबाड़ी सेविका आदि चुनौतियों में दिन रात काम कर रहे हैं। वे सभी अपनी पारिवारिक, निजी समस्याओं और जिम्मेदारियों को पीछे रखकर लोगों की सेवा कर रहे हैं। जिला वासियों से अपील है कि सभी उनका सहयोग करें। आपातकाल में इन्हें अनावश्यक दबाव ना दें और परेशान नहीं करें। इस मामले में सिविल सर्जन डॉक्टर नीलम चौधरी ने कहा कि स्वास्थ्य कर्मियों को लगातार फोन किया जा रहा है। दूसरे प्रदेशों से आने वाले लोगों की सूचना उनके पड़ोसियों के स्तर से दी जा रही है।सूचना देते ही 5 मिनट में पूरी टीम वहां पहुंचने की उम्मीद की जा रही है। जबकि ऐसा नहीं है। उन्होंने यह भी बताया कि अभी तक रामगढ़ जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के पॉजिटिव रिपोर्ट वाले एक भी मरीज नहीं मिले हैं। लेकिन सभी संदिग्ध लोगों की स्क्रीनिंग की जा रही है, जिला प्रशासन के निर्देश के बाद विदेशों और दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों को होम क्वॉरेंटाइन में रखा जा रहा है। उनके कलाई पर क्वॉरेंटाइन की मुहर भी लगाई जा रही है। स्वास्थ्य कर्मी लगातार उनके घर पहुंचकर पोस्टर भी लगा रहे हैं। ताकि संदिग्ध लोगों के घरों से गुजर रहे लोग सतर्क रहें। सिविल सर्जन ने भी लोगों से अपील की है कि कृपया धैर्य बनाए रखें। स्वास्थ्य विभाग पूरी तरीके से कोरोना वायरस के मरीजों का इलाज करने के लिए तैयार है।

 

;

-sponsored-

Comments are closed.