City Post Live
NEWS 24x7

सौरभ पासवान ने पटना में 50 से ज्यादा फुटपाथी दुकानदारों को धूप से बचने वाली छतरी प्रदान किया की।

Saurabh Paswan provided sun umbrellas to more than 50 footpath shopkeepers in Patna

-sponsored-

-sponsored-

- Sponsored -

सिटी पोस्ट LIVE – बिहार की राजधानी पटना में तापमान 45 डिग्री के पार चिलचिलाती गर्मी में भी 2 जून की रोटी के जुगाड़ में फुटपाथ पर बैठे ग्राहकों का इंतजार करते फुटपाथी दुकानदार इस चिलचिलाती गर्मी में उनके लिए सुकून लेकर आए है अखिल एकता उधोग व्यापार मंडल
बिहार प्रदेश संगठन महामंत्री
सौरभ भारतीय पासवान। आज राजधानी पटना में 50 से ज्यादा फुटपाथी दुकानदारों को सौरभ ने धूप से बचने वाली छतरी प्रदान की। छतरी वितरण कार्यक्रम के दौरान उन्होंने पटना वीमेंस कॉलेज के बाहर चाय बेचने वाली ग्रेजुएट चाय वाली लड़की को सम्मानित भी किया तथा उसे भी छतरी प्रदान किया।

 

 

सौरभ ने बताया कि अभियान पटना की सड़कों पर लगातार चल रहा है और आगे भी चलता रहेगा संगठन की तरफ से हजारों छतरी उपलब्ध कराई गई है वो लोग दोपहर में अपनी टीम के साथ निकलते हैं और जहां कहीं धूप में फुटपाथ ही दुकानदार को देखते हैं उसे निशुल्क छतरी प्रदान करते है। या अपने साथ पानी की बोतल भी लेकर चलते उन्होंने बताया कि पहले राजधानी पटना में गर्मी के दिनों में प्याऊ की व्यवस्था रहती थी जगह-जगह समाजसेवियों के लिए पेयजल का स्टॉल लगाया जाता था लेकिन अब कहीं भी इस तरह की व्यवस्था नजर नहीं आती है चिलचिलाती गर्मी में बूंद-बूंद पानी के लिए लोग तरस जाते हैं कहीं भी पेयजल की व्यवस्था नहीं है ऐसे में उनकी टीम पानी की छोटी छोटी बोतल लेकर भी चलती है और जहां कहीं भी सड़क किनारे नजर आते हैं उन्हें पानी भी वितरित किया जाता है।अखिल एकता उधोग व्यापार मंडल
बिहार प्रदेश संगठन महामंत्री

 

सौरभ भारतीय पासवान ने कहा कि आज राजधानी पटना के स्टेशन रोड डाक बंगला चौराहा वेली रोड बोरिंग रोड इलाके में छतरी वितरण का कार्यक्रम चलाया गया। तपती दोपहरी में छतरी की छाव पाने वाले लोग आशीर्वाद भी दे रहे हैं उन्होंने कहा कि सामाजिक जागरूकता अभियान के तहत अन्य सामाजिक संगठनों को भी इस तरह के कार्य के लिए आगे आने चाहिए। उन्होने कहा कार्यक्रम पब्लिसिटी के लिए नहीं किया जा रहा है यह कार्यक्रम लोगों को जागृत करने के लिए किया जा रहा है ताकि लोग एक दूसरे की मदद करें मानवीयता को जिंदा रखें

-sponsored-

- Sponsored -

Subscribe to our newsletter
Sign up here to get the latest news, updates and special offers delivered directly to your inbox.
You can unsubscribe at any time

- Sponsored -

Comments are closed.