By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से बच्चों की मौत मामले में सुप्रीम कोर्ट सुनवाई आज

- sponsored -

बिहार में चमकी बुखार ने माहामारी का रूप लिया और सैंकड़ो बच्चे की इसकी चपेट में आकर अपनी जान गवंा बैैठे। यह जानलेवा बिमारी मासूमों के लिए मौत बन कर आयी और उन्हें लील गये। हांलाकि इस बीमारी का कहर थोड़ा कम जरूर हुआ है

-sponsored-

मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से बच्चों की मौत मामले में सुप्रीम कोर्ट सुनवाई आज

सिटी पोस्ट लाइवः बिहार में चमकी बुखार ने माहामारी का रूप लिया और सैंकड़ो बच्चे की इसकी चपेट में आकर अपनी जान गवंा बैैठे। यह जानलेवा बिमारी मासूमों के लिए मौत बन कर आयी और उन्हें लील गये। हांलाकि इस बीमारी का कहर थोड़ा कम जरूर हुआ है लेकिन आज भी कई बच्चे इस बीमारी की वजह से मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच और दूसरे अस्पतालों में भर्ती हैं। इस बीमारी से अब तक 170 से ज्यादा बच्चों की मौत हो गयी है। आज इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है। बुखार की वजह से बिहार में मचे हाहाकार के बीच आज इस मसले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है।

मुजफ्फरपुर में बच्चों की मौत के मामले से जुड़ी दो याचिकाएं सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की गई हैं।सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई याचिका में मांग की गई है कि अदालत की तरफ से बिहार सरकार को मेडिकल सुविधा बढ़ाने के आदेश दिए जाएं और साथ ही केंद्र सरकार को इस बारे में एक्शन लेने को कहा जाए। बता दें कि बीते बुधवार को कोर्ट ने इस मामले पर सुनवाई को लेकर हामी भरी थी।

Also Read

-sponsored-

कोर्ट में मनोहर प्रताप और सनप्रीत सिंह अजमानी की ओर से दाखिल याचिका में दावा किया गया है कि सरकारी सिस्टम इस बुखार का सामना करने में पूरी तरह से फेल रहा है। बिहार में बीते एक महीने से एईएस या चमकी बुखार को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। इसका सबसे ज्यादा असर मुजफ्फरपुर जिले में दिखा है, जहां सिर्फ श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में अब तक 128 बच्चों की मौत हो चुकी है और कई बच्चों का इलाज चल रहा है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लगातार इस मुद्दे पर चुप्पी साधे हुए हैं।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.