By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

तेजस्वी का कुछ इस अंदाज में तेजप्रताप ने किया ‘जोश हाई’,मेवालाल इस्तीफा प्रकरण पर कही ये बात

;

- sponsored -

भ्रष्टाचार के आठ साल पुराने एक मामले को लेकर विपक्ष के आरोपों से घिरे बिहार के नए शिक्षा मंत्री डॉ. मेवालाल चौधरी ने गुरुवार को पदभार ग्रहण करने के महज सवा घंटे बाद ही इस्तीफा दे दिया। इसके बाद अब विपक्ष गद्गद है।तेजस्वी यादव ने तो नीतीश सरकार को चेतावनी भी दे दी कि ये तो अभी शुरूआत है।आगे भी जनसरोकार के मुद्दे पर आपको घेरते रहेंगे। वहीं इस बीच तेजस्वी यादव के बड़े भाई तेजप्रताप यादव ने ट्वीट कर तेजस्वी यादव का उत्साहवर्धन किया है।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : भ्रष्टाचार के आठ साल पुराने एक मामले को लेकर विपक्ष के आरोपों से घिरे बिहार के नए शिक्षा मंत्री डॉ. मेवालाल चौधरी ने गुरुवार को पदभार ग्रहण करने के महज सवा घंटे बाद ही इस्तीफा दे दिया। इसके बाद अब विपक्ष गद्गद है।तेजस्वी यादव ने तो नीतीश सरकार को चेतावनी भी दे दी कि ये तो अभी शुरूआत है।आगे भी जनसरोकार के मुद्दे पर आपको घेरते रहेंगे। वहीं इस बीच तेजस्वी यादव के बड़े भाई तेजप्रताप यादव ने ट्वीट कर तेजस्वी यादव का उत्साहवर्धन किया है।

आरजेडी नेता तेजप्रताप यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि जियो मेरे खिलाड़ी, पहली बॉल में ही मज़बूत विकेट को “Back to pavilion” कर दिया।

[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

Also Read

वहीं महागठबंधन के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी के इस्तीफे पर राज्य सरकार पर निशाना साधा है। कहा है कि अगर इस्तीफा ही लेना था, तो मंत्री क्यों बनाया। आरोप लगाया है कि पदभार ग्रहण करने वाले से अधिक गुनहगार मंत्री बनाने वाले हैं।

ट्वीट कर तेजस्वी ने कहा कि जनादेश के माध्यम से बिहार ने विपक्ष को एक आदेश दिया है कि सरकार की नीति, नीयत और नियम के खिलाफ आगाह करते रहें। शिक्षा मंत्री का इस्तीफा बानगी है और महज एक इस्तीफे से बात नहीं बनेगी। अभी तो 19 लाख नौकरी, संविदा और समान काम-समान वेतन जैसे अनेकों जनसरोकार के मुद्दों पर हम सरकार को घेरेंगे।

तेजस्वी ने कहा है कि विपक्ष की ओर से इस मसले पर आवाज उठाने के बावजूद मंत्री ने पदभार ग्रहण किया। पदभार ग्रहण के कुछ घंटे बाद ही इस्तीफ़े का नाटक रचा गया। इसलिए असली गुनाहगार सरकार है, जिसने एक भ्रष्टाचार को मंत्री बनाया। सरकार का यह दोहरापन अब चलने नहीं दिया जाएगा।

;

-sponsored-

Comments are closed.