By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

भाजपा की 11 मंत्रियों वाली सरकार को असंवैधानिक बताने वाले खुद पूर्ण मंत्रिमंडल का गठन नहीं कर पाये: शाहदेव

Above Post Content

- sponsored -

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि जब गठबंधन के घटक दल विपक्ष में थे तो उसके नेता 11 सदस्यों वाले कैबिनेट को गैर संवैधानिक कहते थे ।

Below Featured Image

-sponsored-

भाजपा की 11 मंत्रियों वाली सरकार को असंवैधानिक बताने वाले खुद पूर्ण मंत्रिमंडल का गठन नहीं कर पाये: शाहदेव

सिटी पोस्ट लाइव, रांची: भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि जब गठबंधन के घटक दल विपक्ष में थे तो उसके नेता 11 सदस्यों वाले कैबिनेट को गैर संवैधानिक कहते थे । उनके अनुसार संविधान के प्रावधानों के अनुसार 11 सदस्यों का कैबिनेट एक दिन भी अस्तित्व में नही रह सकता था। लेकिन आज हेमंत सोरेन की कैबिनेट में मुख्यमंत्री समेत कुल 11 मंत्री ही है। यह बड़ी हास्यास्पद बात है की जिस बात को लेकर सत्ताधारी दल विपक्ष में रहते समय सवाल खडा करता था, आज वह खुद उसका अनुसरण कर रहा हैं ।प्रतुल ने कहा यही इनके दोहरे राजनीतिक चरित्र को दिखाता है । प्रतुल ने कहा की आज भी एक मंत्री पद को खाली यह स्पष्ट संकेत देता है की गठबंधन की सरकार पर आज भी कांग्रेस का जबरदस्त प्रेशर है। कांग्रेस एक अतिरिक्त मंत्री पद लेने के लिए अभी तक दबाव बनाकर रखी हुई है। स्पष्ट है की राज्य सरकार झारखंड से नहीं बल्कि दिल्ली के गांधी परिवार के इशारे से चलेगी।  प्रतुल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी लोहरदग्गा हिंसा के कारण हुई नीरज प्रजापति की मौत से मर्माहत है।भाजपा गठबंधन सरकार पर इस पूरे प्रकरण की लीपापोती करने के प्रयास की कड़ी निंदा करती है। प्रतुल ने कहा की भाजपा गठबंधन सरकार से मृतक के परिजनों को एक सरकारी नौकरी और 50 लाख रुपये मुआवजा देने की मांग करती है। भाजपा यह भी मांग करती है की इस पूरी घटना की निष्पक्ष जांच की जाए।लोहरदगा में शांतिपूर्वक जुलूस पर हमला करने वालो और पर्दे के पीछे से षड्यंत्र करने वालों की शिनाख्त कर राज्य सरकार सरकार फास्ट ट्रैक कोर्ट का गठन करके दोषियों को सजा दिलाने का कार्य करें।

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.