By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

23 नवंबर से शुरू होगा विधानसभा का पहला सत्र, मांझी प्रोटेम स्पीकर तो नंदकिशोर बनेंगे अध्यक्ष

;

- sponsored -

सीएम नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए की नई सरकार के गठन के बाद अब 17वीं विधानसभा के गठन की प्रक्रिया पूरी की जा रही है। नई विधानसभा का पहला सत्र 23 नवंबर से शुरू होने जा रहा है, जो 27 नवंबर तक चलेगा। नव निर्वाचित विधायकों के स्वागत के लिए विधानसभा को तैयार किया जा रहा है। कोरोना के खतरे को देखते हुए सत्र का आयोजन सेंट्रल हाल में किया जाएगा।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : सीएम नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए की नई सरकार के गठन के बाद अब 17वीं विधानसभा के गठन की प्रक्रिया पूरी की जा रही है। नई विधानसभा का पहला सत्र 23 नवंबर से शुरू होने जा रहा है, जो 27 नवंबर तक चलेगा। नव निर्वाचित विधायकों के स्वागत के लिए विधानसभा को तैयार किया जा रहा है। कोरोना के खतरे को देखते हुए सत्र का आयोजन सेंट्रल हाल में किया जाएगा।

सुरक्षा के लिहाज से विधानसभा और विधान परिषद के पूरे परिसर को सैनिटाइज किया जा रहा है। शुरू के दो दिन विधायकों की शपथ में गुजर जाएंगे। उसके बाद 25 नवंबर को नए अध्यक्ष का चुनाव होगा। इस बार भाजपा के वरिष्ठ नेता नंद किशोर यादव को अध्यक्ष पद की जिम्मेवारी मिलने जा रही है। सदन में संख्या बल को देखते हुए अध्यक्ष का चुनाव महज औपचारिकता भर रह गया है। अगले दिन 26 नवंबर को राज्यपाल फागू चौहान दोनों सदनों के सदस्यों को संयुक्त रूप से संबोधित करेंगे।

सत्र के आखिरी दिन 27 नवंबर को राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव एवं सरकार की ओर से उत्तर होगा। उसके बाद सत्र को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया जाएगा। इस बार विभिन्न दलों से 90 विधायक ऐसे हैं, जो पहली बार विधानसभा पहुंचे हैं। पिछले सत्र के 89 सदस्य दोबारा जीतकर आए हैं। 64 विधायक ऐसे हैं, जो पहले कभी न कभी जीत चुके हैं। किंतु 2015 में उन्हें मौका नहीं मिला था।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

विधानसभा में पहली बार चुनकर आये विधायकों को फिलहाल होटलों में ठहराया जाएगा। इसके लिए पटना जिला प्रशासन को जरूरी इंतजाम करने हैं। विधानसभा की ओर से इसके लिए जिला प्रशासन को जरूरी बजट उपलब्‍ध करा दिया गया है।

;

-sponsored-

Comments are closed.