City Post Live
NEWS 24x7

नशाखुरानी का शिकार बने रेलयात्री ने इलाज के दौरान तोड़ा दम रो – रो कर परिजनों का बुरा हाल|

The railway passenger, who became a victim of drug abuse, broke down during treatment, crying and crying for the bad condition of the family members.

- Sponsored -

- Sponsored -

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव – बेगूसराय सदर अस्पताल में इलाजरत बेहोश एक रेल यात्री ने जीवन और मौत के बीच कड़ी संघर्ष के दौरान अपनी दम तोड़ दी।घटना बरौनी कटिहार रेलखंड के बरौनी जंक्शन की है।मृतक की पहचान जिला सहरसा के शौर बाजार थाना क्षेत्र अन्तर्गत वार्ड संख्या 7 जम्हरा गांव के रहने वाले विनोद कुमार सिंह का लगभग 32 वर्षीय पुत्र राजीव कुमार सिंह के रूप में हुई।

परिजनों ने बताया कि वह मेरठ से अपने घर सहरसा आ रहा था तभी रास्ते में वह बेहोश हो गया जिसे बरौनी रेलवे पुलिस ने इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया जहां मंगलवार की सुबह वह दुनिया से विदा हो गया।घरवालों ने कहा कि वह स्वस्थ्य थे ।उन्होंने कहा कि स्थानीय पुलिस द्वारा सूचना मिला कि उसे बेहोसी की हालत में ट्रेन से उतारा गया जिसे रेलवे पुलिस ने इलाज के लिए सदर अस्पताल बेगूसराय में भर्ती कराया।उन्होंने कहा कि जब सोमवार की रात अस्पताल पंहुंचा तो वह बेहोश था।

परिजनों ने बताया कि सुबह बेहतर इलाज के लिए निजी अस्पताल ले जाने की तैयारी चल ही रहा था इसी बीच उसने दम तोड़ दिया।घटना के बाद मृतक के पत्नी का रोरो कर बुरा हाल बन गया है और लगातार बेहोश हो रही है।
बताया जाता है कि मृत राजीव कुमार मेरठ के एक कंपनी में गत्ते से कार्टून निर्माण का मजदूरी करता था।छह माह बाद अपने परिवार एवं पुत्र पुत्री से मिलने घर आ रहा था लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था और इसी बीच घर आने का सपना चकनाचूर हो गया मानो रेलयात्रा नही बल्कि जीवन की अंतिम यात्रा हो। बरौनी रेलवे थाना अध्यक्ष ने बताया कि यात्री की तबीयत खराब है जिसे बेहोशी की हालत में इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था और एक के परिजनों को सूचना देकर अस्पताल बुलाया गया। थानाध्यक्ष ने बताया कि आगे की जांच चल रही है । फिलहाल थाने की पुलिस शव की पोर्स्टमार्टम कराने की प्रक्रिया में जुटी है।

-sponsored-

- Sponsored -

Subscribe to our newsletter
Sign up here to get the latest news, updates and special offers delivered directly to your inbox.
You can unsubscribe at any time

-sponsored-

Comments are closed.