By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

रायबरेली के तीन युवकों को डॉल्फिन की हत्या में जेल

;

- sponsored -

प्रतापगढ़ जिले के नवाबगंज थाना क्षेत्र में बीते 31 दिसम्बर को शारदा सहायक नहर में डॉल्फिन मछली की हत्या के मामले में पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव, प्रतापगढ़: प्रतापगढ़ जिले के नवाबगंज थाना क्षेत्र में बीते 31 दिसम्बर को शारदा सहायक नहर में डॉल्फिन मछली की हत्या के मामले में पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। शुक्रवार की रात मछली हत्या के मामले का खुलासा किया गया। पुलिस ने बुधवार को मछली की हत्या के वायरल वीडियो के आधार पर मुकदमा दर्ज कर सभी को गिरफ्तार किया है। मछली मारने के सभी आरोपी रायबरेली जिले के रहने वाले हैं।

नवाबगंज थाना क्षेत्र के कोथरिया गांव के पास इलाहाबाद जल शाखा की शारदा सहायक नहर में बीते 31 दिसम्बर को डाल्फिन मछली आ गई थी। नहर बंद होने के चलते पानी कम हो गया और वह बाहर से दिखने लगी। इसका फायदा उठाते हुए कुछ लोगों ने उसे पकड़ने का प्रयास किया। पकड़ने में सफलता न मिलने पर उसे मार दिया। डॉल्फिन का वजन लगभग एक कुंतल होने के कारण उसको मारने वाली साथ लेकर नहीं जा सके। सूचना पर पहुंची वन विभाग व पुलिस की टीम ने तत्काल मछली को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया था। वन विभाग ने अज्ञात लोगों पर डाल्फिन को मारने का मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि कुछ लोगों ने उसे खाने के लिए पकड़ने का प्रयास किया था। सफलता नहीं मिलने पर धारदार हथियार से मार दिया।
जांच के दौरान ऊंचाहार थाना क्षेत्र के आजाद नगर निवासी राहुल कुमार पुत्र अयोध्या प्रसाद सरोज, ऊंचाहार के हरिहरपुर गांव निवासी राहुल कुमार पुत्र छोटेलाल व अनुज कुमार पुत्र रामपाल के नाम सामने आए। नवाबगंज पुलिस और वन विभाग की टीम ने तीनों को गिरफ्त में ले लिया। लिखापढ़ी कर तीनों को जेल भेज दिया गया। वन विभाग की टीम ने डॉल्फिन के शव का पोस्टमार्टम करने के बाद, वहीं उसका अन्तिम सस्कार भी कर दिया। डॉल्फिन की ऐसी हत्या से नहर का पानी उसके खून से लाल हो गया। मौके पर मौजूद कुछ लोगों ने इस घटना का वीडियो बना लिया। वहीं, कुछ लोगों ने इस वीडियो को सोशल मीडिया पर बुधवार को वायरल कर दिया जिसे देखकर पुलिस ने मामले में कड़ी कार्रवाई शुरू कर दी और गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।
;

-sponsored-

Comments are closed.