By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

4478 अति संवेदनशील व संवेदनशील मतदान केंद्रों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

;

- sponsored -

राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चौबे ने बताया कि दूसरे चरण के तहत होनेवाले मतदान को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

4478 अति संवेदनशील व संवेदनशील मतदान केंद्रों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

सिटी पोस्ट लाइव, रांची: राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चौबे ने बताया कि दूसरे चरण के तहत होनेवाले मतदान को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। सभी मतदान केंद्रों में जवान तैनात किए गये है और लगातार पेट्रोलिंग की जाएगी।उन्होंने बताया कि इस चरण में जिन विधानसभा सीटों के लिए चुनाव हो रहा है, उसमें से कई नक्सल प्रभावित हैं। इस वजह से अति संवेदनशील और संवेदनशील मतमदान केंद्रों की सुरक्षा के लिए आर्म्ड पुलिस को तैनात किया गया है। पुलिस को मूवमेंट को लेकर आवश्यक निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

अति संवेदनशील और संवेदनशील श्रेणी में रख सुरक्षा के इंतजाम

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

चौबे ने बताया कि मतदान केंद्रों को नक्सल और गैर नक्सल आधार पर संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केंद्रों में रखा गया है। उन्होंने बताया कि नक्सल प्रभावित इलाकों में 949 अति संवेदनशील और 762 संवेदनशील मतदान केंद्र हैं। वहीं गैर नक्सल संवेदनशील मतदान केंद्रों की संख्या 2005 और  अति संवेदनशील मतदान केंद्रों की संख्या 762 है। इसके अलावा सामान्य मतदान केंद्रों की संख्या 1588 चिन्हित की गई है। संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केंद्रों में आर्म्ड फोर्सेज के जवान तैनात किए गए हैं।

सभी मतदानकर्मी सुरक्षित पहुंच चुके हैं कलस्टरों में

1455 मतदान केंद्रों पर मतदान कर्मियों को मतदान दिवस के दो दिन पूर्व रवाना किया गया, जबकि अन्य को एक दिन पहले भेजा गया। उन्होंने बताया कि सभी मतदानकर्मी अपने-अपने कलस्टर सेंटर पर सुरक्षित पहुंच चुके हैं। उन्होंने यह भी बताया नक्सल प्रभावित और दुरुह इलाकों में अवस्थित 155 मतदान केंद्रों पर मतदान कराने के लिए मतदानकर्मियों को हेलीकॉफ्टर से भेजा गया।

लाइसेंसी हथियार जमा होने और गैर जमानती वारंटों के तामील से जुड़े आंकड़े

चौबे ने बताया कि दूसरे चरण में कुल 7031 लाइसेंसी हथियारों  के विरुद्द 5784 हथियार जमा कराए गए। वहीं तामिला किए गए  गैर जमानती वारंटों की संख्या 2588 रही, जबकि लंबित गैर जमानती वारंटों की संख्या 88 है। इसके अतिरिक्त पहले चरण के चुनाव को लेकर मतदाताओं को प्रभावित करने वाले लोगों की संख्या 865  चिन्हित की गई, जबकि प्रभावित होनेवाले लोगों की संख्या 28,224 रही। इसके अलावा 762 को बाउंड ओवर और 2 को हिरासत में लिया गया।

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.