City Post Live
NEWS 24x7

मिशन इन्द्रधनुष कार्यक्रम के तीनां चक्रों में बच्चों व गर्भवती माताओं को टीकाकृत करने में मिली आशातीत सफलता-मंगल पाण्डेय

Unexpected success in vaccinating children and pregnant mothers in all the three rounds of Mission Indradhanush program - Mangal Pandey

- Sponsored -

-sponsored-

- Sponsored -

सिटी पोस्ट लाइव –  स्वास्थ्य मंत्री श्री मंगल पांडेय ने कहा कि राज्य में इस वर्ष चलाए गए सघन मिशन इंद्रधनुष कार्यक्रम के तीनां चक्रों में लक्ष्य से ज्यादा बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को टीकाकृत करने में आशातीत सफलता मिली है। लक्ष्य से ज्यादा लाभुकों का टीकाकरण यह दर्शाता है कि विभाग के साथ समुदाय भी पूर्ण टीकाकरण को लेकर संवेदनशील है।

 

 

बच्चों का पूर्ण टीकाकरण

शत-प्रतिशत पूर्ण टीकाकरण के माध्यम से शिशुओं एवं गर्भवती महिलाओं में रुग्णता एवं कई रोगों की रोकथाम को लेकर विभाग का निरंतर प्रयास जारी है।श्री पांडेय ने कहा कि पूर्ण टीकाकरण को एक अभियान के तरह चलाया जा रहा है। इस अभियान को गति देने के लिए “सघन मिशन इंद्रधनुष” कार्यक्रम के तहत राज्य में 8 लाख 73 हजार 830 बच्चों का पूर्ण टीकाकरण किया गया। जबकि 8 लाख 39 हजार 562 बच्चों को टीकाकृत करने का लक्ष्य रखा गया था। इस अभियान के तहत पूरे प्रदेश में एक लाख 67 हजार 911 गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया गया। जबकि एक लाख 47 हजार 904 गर्भवती महिलाओं को ही टीकाकृत करने का लक्ष्य निर्धारित था। इस तरह लक्ष्य से ज्यादा बच्चों और महिलाओं को सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान के तहत आच्छादित किया गया।

 

13 मई तक चलाया गया।

श्री पांडेय ने कहा कि विभाग की ओर से इस अभियान को तीन चक्रों में चलाया गया। सात से 13 मार्च तक पहला चक्र चलाया गया। दूसरा चक्र चार से 10 अप्रैल तक चलाया गया और तीसरा चक्र दो मई से 13 मई तक चलाया गया। सभी चक्रों में लक्ष्य से ज्यादा बच्चों और गर्भवती महिलाओं को टीकाकरण से आच्छादित किया गया। तीनों चक्रों के दौरान कुल 71 हजार 823 टीकाकरण सत्रों पर बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को टीकाकृत करने की योजना थी। जिसमें इस दौरान कुल 72 हजार 72 टीकाकरण सत्रों का आयोजन किया गया।

- Sponsored -

-sponsored-

Subscribe to our newsletter
Sign up here to get the latest news, updates and special offers delivered directly to your inbox.
You can unsubscribe at any time

-sponsored-

Comments are closed.