By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बहुत जल्द होगा पटना जंक्शन पर स्मार्ट कॉम्प्लेक्स एवं आधुनिक सुख सुविधाएं

;

- sponsored -

अब राजधानी पटना को भी हाईटेक बानाया जाएगा. लेकिन इसमें बड़ी खबर यह है कि पटना को स्मार्ट करने में उत्तर प्रदेश भी साथ देगा. अगर सब कुछ ठीक रहा तो अगले वर्ष के अंत तक पटना जंक्शन इलाके की तस्वीर बदली हुई नजर आएगी.

-sponsored-

-sponsored-

बहुत जल्द होगा पटना जंक्शन पर स्मार्ट कॉम्प्लेक्स एवं आधुनिक सुख सुविधाएं

सिटी लाइव पोस्ट –अब राजधानी पटना को भी हाईटेक बानाया जाएगा. लेकिन इसमें बड़ी खबर यह है कि पटना को स्मार्ट करने में उत्तर प्रदेश भी साथ देगा. अगर सब कुछ ठीक रहा तो अगले वर्ष के अंत तक पटना जंक्शन इलाके की तस्वीर बदली हुई नजर आएगी. इसे  उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम पटना जंक्शन एरिया का पुनर्विकास करेगा . पटना स्मार्ट सिटी लिमिटेड की ओर से इस कार्य के लिए एजेंसी का चयन किया गया है . स्मार्ट सिटी प्राइवेट लिमिटेड की ओर से 11 परियोजनाओं का कार्यादेश विभिन्न एजेंसियों को दिया जा चुका है .

इनमें सात पर कार्य युद्ध स्तर पर कराया जा रहा है . इससे राजधानी के विकास को रफ्तार मिलेगी . शहरवासियों को भी कई सुविधाएं सुलभ होंगी .पटना जंक्शन एरिया रिडेवलपमेंट पर 211 करोड़ रुपये खर्च होंगे . इसके लिए नगर निगम की ओर से छह मार्च को कार्यादेश जारी किया गया है . स्मार्ट सिटी के तहत पटना जंक्शन एरिया की सूरत बदल जाएगी . इस एरिया की सरकारी भूमि को व्यवस्थित तरीके से फिर से बसाया जाएगा . इसके तहत स्मार्ट कॉम्प्लेक्स, मिलन प्लाजा, वेंडर कॉम्प्लेक्स, मछली, फल और सब्जी दुकानों के लिए अलग-अलग कॉम्प्लेक्स रहेंगे . ये चार मंजिला से लेकर जी प्लस एक मंजिल तक के होंगे .

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

महावीर मंदिर व मस्जिद के बीच सरकारी भूमि पर बनी दुकानों को स्मार्ट कॉम्प्लेक्स में शिफ्ट किया जाएगा . चार मंजिला स्मार्ट कॉम्प्लेक्स में 16 एकड़ एरिया के सभी लाइसेंसी दुकानदारों को शिफ्ट किया जाएगा . इसके बाद खाली जगह पर हरियाली पार्क के रूप में मिलन प्लाजा विकसित होगा. यहां लोग फुर्सत के पल बिता सकेंगे .एरिया के विकास के बाद पटना जंक्शन एरिया में वर्तमान में होने वाले जाम से मुक्ति मिलेगी . इसके लिए स्मार्ट सिटी के तहत मल्टी मोडल ट्रांसपोर्ट इंटरचेंज स्टॉप (एमएमपीआइएस) विकसित होगा . इसमें कार, बाइक, ऑटो व अन्य वाहनों के आने-जाने के लिए रूट निर्धारित रहेगा . इससे जाम से मुक्ति मिलेगी . जबकि जीपीओ से मंदिर गोलंबर के बीच की सड़क को मॉडल पथ बनाया जाएगा.

बता दें कि  पटना जंक्शन एरिया में यात्रियों और शहरी आगंतुकों के लिए नौ मंजिला स्टार होटल बनाया जाएगा . इसमें दो अलग-अलग केंद्र होंगे . एक में आवासीय सुविधा होगी तो दूसरी में स्पा, क्लब व तमाम अत्याधुनिक सुविधाएं मुहैया होंगी . स्टार होटल के लिए बिडिंग प्रक्रिया चल रही है. मालूम हो कि पटना का पटना जंक्शन इलाका काफी व्यस्त इलाकों में से एक माना जाता है .जिस हिसाब से यहाँ पर लोगों की भीड़ रहती है उस तरीके से उन्हें कोई सुविधा नहीं मिलती है. अगर यह योजना धरातल पर उतर जाती है तो इस इलाके से लेकर यात्रियों तक के लिए यह सौगात जैसा होगा.  2020 के अंत तक एरिया की सूरत पूरी तहत बदलने की योजना है.

जे.पी.चंद्रा की रिपोर्ट

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.