By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

कुशवाहा के साथ गरजीं मायावती, नीतीश और लालू दोनों के शासनकाल को लिया निशाने पर

HTML Code here
;

- sponsored -

आरएलएसपी सुप्रीमो उपेन्द्र कुशवाहा के साथ यूपी की पूर्व सीएम मायावती के साथ मिलकर ग्रैंड यूनाइटेड सेक्युलर फ्रंट के उम्मीदवारों के लिए वोट मांगे हैं। भभुआ में आयोजित जनसभा में मायावती लालू यादव और नीतीश कुमार दोनों के शासनकाल पर जमकर बरसीं। उन्होंने उपेन्द्र कुशवाहा के नेतृत्व में बिहार में नयी सरकार बनाने की अपील की।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : आरएलएसपी सुप्रीमो उपेन्द्र कुशवाहा के साथ यूपी की पूर्व सीएम मायावती के साथ मिलकर ग्रैंड यूनाइटेड सेक्युलर फ्रंट के उम्मीदवारों के लिए वोट मांगे हैं। भभुआ में आयोजित जनसभा में मायावती लालू यादव और नीतीश कुमार दोनों के शासनकाल पर जमकर बरसीं। उन्होंने उपेन्द्र कुशवाहा के नेतृत्व में बिहार में नयी सरकार बनाने की अपील की।

बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने कहा कि सरकारी कार्यों को प्राइवेट तरीके से किया जा रहा है। इसमें भी आरक्षण का ध्यान नहीं दिया जा रहा है। गलत आर्थिक नीतियों के कारण गरीबी, बेरोजगारी बढ़ रही है। 15-15 साल एनडीए और राजद, दोनों की सरकारें रहीं, लेकिन रोजगार का काम नहीं किया। लेकिन अब चुनाव आया है तो 10 लाख तथा 19 लाख रोजगार देने की बात कर रहे हैं। अब दोनों सरकार को आजमाने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि बिहार में अगर काम हुआ होता तो नया गठबंधन नहीं बनाना पड़ता।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-


मायावती ने कहा कि बिहार में अगर ग्रैंड युनाइटेड सेक्युलर फ्रंट की सरकार बनती है तो सभी को सम्मान दिया जाएगा। विरोधियों के साम- दाम दंड भेद से बचके रहना है। उन्होंने कहा कि बसपा चुनाव में कोई घोषणा पत्र जारी नहीं करती। अगर बिहार में सरकार बनती है तो उतर प्रदेश की तरह ही बिहार में सरकार चलेगी।

उन्होनें कहा कि यूपी में हमारी की चार बार सरकार रही। वहां हमने बेरोजगारी भत्ता न देकर सरकारी तथा गैर सरकारी क्षेत्र में लोगों को नौकरी दी। सरकार के पास जो जमीन पड़ी थी गरीब और भूमिहीनों को खेत उपलब्ध करवाया। कांशीराम के नाम से शहरी विकास योजना की शुरुआत की। गरीब लोगों को मकान बनवाकर दिए। यूपी के किसानों को समय से फसलों का उचित दाम दिया है।

बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने कहा कि हमने यूपी में कानून की व्यवस्था अच्छी दी। बसपा राज में अपराधी जेल में रहते थे। बिहार कि तरह घूमते नहीं रहते थे। उन्होंने कहा कि हमारे द्वारा दलित के हितों का ध्यान रखा गया। शिक्षा के क्षेत्र में काम किया। मायावती ने कहा कि हमने स्कूल जाने के साइकिल और छात्रवृत्ति दी। उन्होंने कहा कि कई सरकारों ने इसकी नकल की, लेकिन उनकी सोच छोटी रही।

भभुआ से प्रत्याशी वीरेन्द्र कुशवाहा के लिए आरएलएसपी सुप्रीमो उपेन्द्र कुशवाहा और बीएसपी सुप्रीमो बहन मायावती ने मिलकर वोट मांगे। वहीं उपेन्द्र कुशवाहा ने संदेश विधानसभा के प्रत्याशी शिवशंकर प्रसाद उर्फ जागा कुशवाहा के लिए जनसभा को संबोधित किया।

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.