By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की सुरक्षा में 12 आईपीएस सहित 3000 हजार थे तैनात

- sponsored -

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के झारखंड दौरे को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गये थे। सुरक्षा को लेकर 12 आईपीएस अफसरों को की तैनाती की गयी थी।

Below Featured Image

-sponsored-

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की सुरक्षा में 12 आईपीएस सहित 3000 हजार थे तैनात 

सिटी पोस्ट लाइव, रांची: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के झारखंड दौरे को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गये थे। सुरक्षा को लेकर 12 आईपीएस अफसरों को की तैनाती की गयी थी। एयरपोर्ट से कार्यक्रम स्थल सेंट्रल यूनिवर्सिटी कैंपस चेरी मनातू तक 3000 अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किए गये थे। सुरक्षा के लिहाज से  24 डीएसपी , 60 इंस्पेक्टर और ढाई सौ सब इंस्पेक्टर की तैनाती की गयी थी। इसके अलावा चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाबलों की तैनाती की गयी थी।

सुरक्षा की मॉनिटरिंग खुद एसएसपी अनीश गुप्ता और डीआईजी अमोल वेणुकांत होमकर कर रहे थे।  डीआईजी और एसएसपी  लगातार अधिकारियों वारलेस से सुरक्षा के निर्देश दे रहे थे।  सभी थानेदारों अपने-अपने क्षेत्र में लगातार गश्त कर रहे थे।  राष्ट्रपति के कारकेड में लगभग 50  से अधिक वाहन शामिल थे। एयरपोर्ट से राजभवन तक चिन्हित 38 ऊंची इमारतों से पुलिस के जवान निशाना साधे खड़े थे। राष्ट्रपति के आगमन के दौरान उनके गुजरने वाले सड़क मार्ग को लगभग 20 मिनट के लिए बंद कर दिया गया था। साथ ही मुख्य सड़क के सभी कटस को भी बंद कर दिया गया था। चेरी मनातू स्थित सीयूजे कैंपस में तीन लेयर की सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम किये गये थे। तीन स्तरीय जांच के बाद ही लोगों को कार्यक्रम स्थल में  प्रवेश कराया जा रहा था।  तैनात पुलिसकर्मी मेटल डिटेक्टर से जांच के बाद ही लोगों को अंदर जाने दे रहे थे।

Also Read

-sponsored-

राष्ट्रपति का कार्यक्रम

29 फरवरी को राष्ट्रपति गुमला जिले के विशुनपुर में 10.20 बजे से 11.30 बजे तक विकास भारती के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। उसी दिन दोपहर एक बजे वे देवघर पहुंच कर बाबा वैद्यनाथ की पूजा-अर्चना करेंगे। इसके बाद राष्ट्रपति 01 मार्च को पूर्वाह्न 10 बजे रायपुर के लिए प्रस्थान करेंगे।

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.