By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

खामोशी से चालान कटवाने वाले अभिमन्यु यादव ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र, पुलिसकर्मियों को मिले स्पेशल ट्रेंनिग

Above Post Content

- sponsored -

टीम अभिमन्यु के संरक्षक अभिमन्यु यादव को लेकर एक खबर आई थी कि सीट बेल्ट नहीं होने पर उन्होंने बिना किसी बहस के चालान कटवाया. ये सामान्य घटना इसलिए सुर्खियां बानी क्योंकि अभिमन्यु यादव की एक पहचान और भी है.

Below Featured Image

-sponsored-

खामोशी से चालान कटवाने वाले अभिमन्यु यादव ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र, पुलिसकर्मियों को मिले स्पेशल ट्रेंनिग

सिटी पोस्ट लाइव: टीम अभिमन्यु के संरक्षक अभिमन्यु यादव को लेकर एक खबर आई थी कि सीट बेल्ट नहीं होने पर उन्होंने बिना किसी बहस के चालान कटवाया. ये सामान्य घटना इसलिए सुर्खियां बानी क्योंकि अभिमन्यु यादव की एक पहचान और भी है. वे सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव के बेटे हैं और ट्रैफिक नियमों के उलंघन पर उन्होंने पिता के सियासी रसूख की धौंस नही दिखाई जैसा आमतौर पर होता है.

खामोशी से चालान कटवाने वाले अभिमन्यु यादव ने अब पुलिसकर्मियों के व्यवहार को अमानवीय बताया है और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखकर पुलिसकर्मियों के स्पेशल ट्रेंनिग की मांग की है. अपने पत्र में उन्होंने लिखा है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तथा वरिष्ठ अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराना चाहता हूँ कि पटना के पुलिसकर्मियों का व्यवहार मानवीय बिल्कुल नहीं है।

Also Read
Inside Post 3rd Paragraph

-sponsored-

“पीपुल फ्रेंडली” होने का दावा करने वाली पटना पुलिस के सिपाहियों का रवैया ठीक उसके उलट है। हर जगह से खबरें भी छप रहीं हैं कि चालान काटा जा रहा है परंतु जो आम लोगों के साथ व्यवहार किया जा रहा है वह अमानवीय है। कानून का पालन करवाना एक अलग चीज है और खुद कानून बनकर अपने हिसाब से निर्णय लेना ये अलग चीज। मैं मुख्यमंत्री से हाथ जोड़कर आग्रह करता हूँ कि इन पुलिसकर्मियों को आम आदमी के साथ कैसा वर्ताव करना चाहिए उसके लिए स्पेशल ट्रेंनिग दी जाए। कानून का पालन सर्वप्रथम है परंतु अमानवीय ढंग से, मानवीय संवेदना को ठोकरों से मारते हुए कानून का पालन कहाँ तक उचित है?

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.