By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

पटना : कोरोना के दहशत के बाद गांव के लोगों ने भी एक दूसरे के गांव आना-जाना किया बंद

Above Post Content

- sponsored -

कोरोना का दहशत इतना बढ़ गया है कि लोग अब एक दूसरे से मिलने में भी लोगों को डर लग रहा है, जहां बिहार में अब तक कोरोना के 4 पॉजीटिव केस पाए गए हैं और एक युवक की हुई मौत हो गई थी. जिसको लेकर और काफी डर है.

Below Featured Image

-sponsored-

पटना : कोरोना के दहशत के बाद गांव के लोगों ने भी एक दूसरे के गांव आना-जाना किया बंद

सिटी पोस्ट लाइव : कोरोना का दहशत इतना बढ़ गया है कि लोग अब एक दूसरे से मिलने में भी लोगों को डर लग रहा है, जहां बिहार में अब तक कोरोना के 4 पॉजीटिव केस पाए गए हैं और एक युवक की हुई मौत हो गई थी. जिसको लेकर और काफी डर है. जहां एक दूसरे गांव में आना-जाना भी बंद कर दिया है. ऐसा ही मामला राजधानी पटना से सटे बिहटा के नगर बिहटा गांव का है जहां गांव के लोगों में इतनी दहशत हो गई है कि एक दूसरे गांव से आना-जाना भी बंद कर दिया. जहां मुख्य रास्ते पर पेड़ को काटकर बंद कर दिया और जब तक इस खौफ या बीमारी खत्म नहीं होती तब तक ऐसा ही रहेगा.

यह निर्णय पूरे गांव के लोगो ने मिलकर लिया है, वैसे इसी गांव से एक महिला कोरोना संदिग्ध पाई गई थी. जिस का रिजल्ट दो दिन बाद निगेटिव मिला लेकिन इसके बावजूद भी गांव के लोगों मे दहशत है और उनका मानना है कि एक तरफ जहां पूरा देश लॉक डाउन हो चुका है और अब हम लोगों को भी जागरूक होना चाहिए और एक दूसरे गांव के लोगों से मिलना और आने जाना बंद करना चाहिए ताकि इस बीमारी को हरा सके.

Also Read

-sponsored-

वहीं दूसरा मामला बिहटा प्रखंड के सिमरी गांव का है जहां गांव के लोगों ने वहां भी गांव के मुख्य रास्ते को बंद करके कर्फ्यू जैसा बना दिया है और एक दूसरे गांव के लोगों से आना-जाना भी बंद कर दिया. अब आप खुद सोच सकते हैं कि बिहार की जनता भी इस बीमारी से डर चुकी है और दशक में जीने को मजबूर है इसी को लेकर गांव के लोगों ने यह निर्णय लिया है.

बिहटा से निशांत कुमार की रिपोर्ट

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.