By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

पूरे प्रदेश में आंगनबाड़ी सेविकाओं का आंदोलन, 12 सूत्री मांगों को लेकर हंगामा

Above Post Content

- sponsored -

राजधानी पटना सहित राज्य के अन्य जिलों जैसे सासाराम, बक्सर, शिवहर, मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, कटिहार, बेगूसराय में आंगनबाड़ी सेविकाओं ने जिला समाहरणालय के सामने आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन किया है.

Below Featured Image

-sponsored-

पूरे प्रदेश में आंगनबाड़ी सेविकाओं का आंदोलन, 12 सूत्री मांगों को लेकर हंगामा

सिटी पोस्ट लाइव : प्रदेश में गुरुवार को आंगनबाड़ी सेविकाओं द्वारा आंदोलन किया गया. जिसमें बिहार के सभी जिलों से भारी संख्या में नियमित सेविकाओं सहित अपनी 12 सूत्री मांगों को लेकर आंगनबाड़ी सेविकाएं राजधानी पटना पहुंची और जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन किया. इस दौरान आंगनबाड़ी सेविकाओं ने बिहार सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. वहीं सेविकाओं द्वारा मुख्यालय के बाहर हंगामा भी मचाया गया. बता दें राजधानी पटना सहित राज्य के अन्य जिलों जैसे सासाराम, बक्सर, शिवहर, मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, कटिहार, बेगूसराय में आंगनबाड़ी सेविकाओं ने जिला समाहरणालय के सामने आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन किया है.

बताते चलें पिछले दिनों पीएम मोदी ने इसी महीने से देश की 8 लाख से ज्यादा आशा कार्यकर्ताओ और आगनबाड़ी सेविकाओं के मानदेय में इजाफ़ा करने की घोषणा की थी. पीएम ने मन की बात के दौरान सभी आगनबाड़ी सेविकाओं और आशा को तोहफा देते हुए, प्रोत्साहन राशि बढ़ाकर दुगना करने और आगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय 3000 रूपये से बढ़ा कर 4500 रूपये करने का फैसला किया. जिसके बाद से ही बिहार में सेविकाएं राज्य सरकार पर दबाव बना रही हैं. सेविकाओं की मांग है कि उनकी सेवा को स्थायी करने के साथ – साथ वेतनमान के अलावे 12 अन्य मांगो को शामिल की जाये.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.