By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बदले मौसम की चुनौतियों से निबटने के बीएयू किसानों को देगा नई दिशा

HTML Code here
;

- sponsored -

बिरसा कृषि विश्वविद्यालय कृषि और संबद्ध क्षेत्रों में अपने द्वारा अब तक विकसित और अनुशंसित उन्नत तकनीकों से संबंधित पुस्तक प्रकाशित करेगा। कंपेंडियम ऑफ टेक्नोलॉजीज नाम से प्रकाश्य इस डॉक्यूमेंट में फसल प्रभेदों, कृषि यंत्रों, फसल प्रबंधन एवं पौधा संरक्षण तकनीकों, पशु- पक्षी नस्लों, पशु स्वास्थ्य प्रबंधन, मत्स्यपालन, एवं वन वर्धन तकनीकों से संबंधित जानकारी
संग्रहित रहेगी।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव, रांची: बिरसा कृषि विश्वविद्यालय कृषि और संबद्ध क्षेत्रों में अपने द्वारा अब तक विकसित और अनुशंसित उन्नत तकनीकों से संबंधित पुस्तक प्रकाशित करेगा। कंपेंडियम ऑफ टेक्नोलॉजीज नाम से प्रकाश्य इस डॉक्यूमेंट में फसल प्रभेदों, कृषि यंत्रों, फसल प्रबंधन एवं पौधा संरक्षण तकनीकों, पशु- पक्षी नस्लों, पशु स्वास्थ्य प्रबंधन, मत्स्यपालन, एवं वन वर्धन तकनीकों से संबंधित जानकारी
संग्रहित रहेगी।

 

इसके साथ ही बीएयू लगातार बदलते मौसम की चुनौतियों से निपटने के लिए जलवायु लचीली कृषि तकनीक विकसित करने तथा कुपोषण की समस्या से निपटने के लिए चावल, मक्का, मड़ुआ आदि फसलों में प्रोटीन तथा जिंक, आयरन जैसे सूक्ष्म पोषक तत्वों की उपलब्धता बढ़ाने के लिए बायोफोटीर्फाइड प्रभेदों के विकास पर शोध प्रयास केंद्रित किया जाएगा।

 

विवि के कुलपति डा ओंकार नाथ सिंह ने ये बातें खरीफ अनुसंधान परिषद की दो दिवसीय बैठक में कही। कुलपति ने छात्र-छात्राओं के स्नातकोत्तर अनुसंधान कार्यों को आगे बढ़ाने की कार्य योजना बनाने के लिए डीन, स्नातकोत्तर शिक्षा संकाय की अध्यक्षता में वरिष्ठ पदाधिकारियों की एक समिति बनाने की घोषणा की।

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.