By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

नदी के तेज प्रवाह में चेक डैम बहा, धान की फसल बर्बाद

HTML Code here
;

- sponsored -

जिले के बिशुनपुर प्रखंड के बनारी गोर्राटोली के पानीकोना में वन विभाग द्वारा बनाया गया चेक डैम नदी के तेज प्रवाह में बह गया। उक्त चेकडेम में पानी की निकासी की समुचित व्यवस्था नहीं होने के कारण यह चेकडेम नदी के प्रवाह को नहीं झेल पाया। चेकडेम बहने के बाद करीब 10 एकड़ खेत में लगी धान की फसल भी बर्बाद हो गया।

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव, गुमला: जिले के बिशुनपुर प्रखंड के बनारी गोर्राटोली के पानीकोना में वन विभाग द्वारा बनाया गया चेक डैम नदी के तेज प्रवाह में बह गया। उक्त चेकडेम में पानी की निकासी की समुचित व्यवस्था नहीं होने के कारण यह चेकडेम नदी के प्रवाह को नहीं झेल पाया। चेकडेम बहने के बाद करीब 10 एकड़ खेत में लगी धान की फसल भी बर्बाद हो गया।

 

वहीं, उक्त चेक डेम में गोर्राटोली निवासी मार्सल लकड़ा ने बताया कि उसने मत्स्य पालन के लिए मछली का दस किलो जीरा भी छोड़ा था। मगर वह भी बह गया। ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि उक्त चेक डैम में अत्यधिक वर्षा होने के कारण पानी चेक डैम के ऊपर से बहने लगा था । इसकी शिकायत ग्रामीणों द्वारा बनारी फॉरेस्ट विभाग में जाकर कर दिया गया था लेकिन विभाग के लोग ग्रामीणों को सांत्वना देते रहें और इधर चेक डैम ही बह ही गया। फसल बर्बाद होने से प्रभावित किसान मार्शल लकड़ा, मुकेश उरांव, रामधन महतो सहित कई किसानों ने फॉरेस्ट विभाग एवं प्रखंड प्रशासन से मुआवजे के लिए गुहार लगा रहे हैं।

HTML Code here
;

-sponsered-

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.