By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

मुख्य सचिव ने स्थापित राज्य स्तरीय कोरोना नियंत्रण कक्ष का किया निरीक्षण

;

- sponsored -

मुख्य सचिव डॉ डीके तिवारी ने बुधवार को सूचना भवन में स्थापित राज्य स्तरीय कोरोना नियंत्रण कक्ष का निरीक्षण किया। इस क्रम में उन्होंने टोल फ्री नंबर 181 पर आने वाले कॉल से संबंधित जानकारी ली।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

मुख्य सचिव ने स्थापित राज्य स्तरीय कोरोना नियंत्रण कक्ष का किया निरीक्षण

सिटी पोस्ट लाइव, रांची: मुख्य सचिव डॉ डीके तिवारी ने बुधवार को सूचना भवन में स्थापित राज्य स्तरीय कोरोना नियंत्रण कक्ष का निरीक्षण किया। इस क्रम में उन्होंने टोल फ्री नंबर 181 पर आने वाले कॉल से संबंधित जानकारी ली। मुख्य सचिव ने कहा कि राज्य सरकार लोगों के मदद के लिए कृत संकल्पित है। सरकार गरीबों के मदद के लिए उन तक आवश्यक वस्तुओं को पहुंचाने का कार्य कर रही है साथ ही उन्होंने लोगों से भी आग्रह किया है कि वे वैसे गरीब लोग जो आपके आस पड़ोस में हैं उनका आपसे जो बन पड़े मदद करें। मुख्य सचिव ने कहा कि कई अन्य राज्यों से मजदूरों के फंसे होने के मामले सामने आ रहे हैं । इस के लिए राज्य सरकार द्वारा संबंधित राज्य सरकार से संपर्क स्थापित कर उन मजदूरों के रहने एवं खाने की व्यवस्था की जा रही है। मुख्य सचिव ने कहा कि घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है राज्य सरकार के पास पर्याप्त मात्रा में खाद्य सामग्री उपलब्ध है जो कई दिनों तक चल सकता है। सरकार द्वारा खाद्य सामग्रियों की होम डिलीवरी के भी उपाय किए जा रहे हैं ।
Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

निरीक्षण के क्रम में मुख्य सचिव को बताया गया कि राज्य स्तरीय कोरोना नियंत्रण कक्ष में 3 शिफ्ट में रोस्टर लगाकर कार्य किया जा रहा जिससे 24 घंटे यहाँ एक डॉक्टर, एक प्रशासन एवं एक पुलिस के आला अधिकारी उपस्थित रहते है, जो विशेषज्ञ के रूप में कार्य कर रहे है । साथ ही संबंधित मामले के लिए कार्रवाई भी कर रहे हैं। नियंत्रण कक्ष में 40 लोगों की कंप्लायंस टीम भी रोस्टर ड्यूटी के अनुसार कार्य कर रही है, जो 24 घंटे आने वाले प्रत्येक कॉल की मोनेटरिंग कर रहे हैं। मौके पर सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के विशेष सचिव  रमाकांत सिंह, निदेशक राजीव लोचन बख्शी, रोस्टर ड्यूटी के अनुसार राज्य सरकार के 3 पदाधिकारी  राजकुमार उपाध्यक्ष आरआरडीए, डॉक्टर लक्ष्मण लाल, निदेशक, चिकित्सा शिक्षा,  अविनाश कुमार, पुलिस उपाधीक्षक, जैप 2, स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारी एवं सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के पदाधिकारी भी उपस्थित थे।

 

;

-sponsored-

Comments are closed.