By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

जन शिकायतों को लेकर सिर्फ खानापूर्ति न करें पदाधिकारी : प्रधान सचिव

मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव ने की जनसंवाद कार्यक्रम की साप्ताहिक समीक्षा

- sponsored -

मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील वर्णवाल ने मंगलवार को मुख्यमंत्री जनसंवाद कार्यक्रम की साप्ताहिक समीक्षा की। उन्होंने राज्य के सभी जिलों के नोडल पदाधिकारियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बात कर मुख्यमंत्री जनसंवाद केंद्र में आयी शिकायतों की विस्तृत जानकारी ली। साथ ही लंबित शिकायतों के शीघ्र निष्पादन करनेे का निर्देश दिया।

-sponsored-

जन शिकायतों को लेकर सिर्फ खानापूर्ति न करें पदाधिकारी : प्रधान सचिव

सिटी पोस्ट लाइव, मेदिनीनगर: मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील वर्णवाल ने मंगलवार को मुख्यमंत्री जनसंवाद कार्यक्रम की साप्ताहिक समीक्षा की। उन्होंने राज्य के सभी जिलों के नोडल पदाधिकारियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बात कर मुख्यमंत्री जनसंवाद केंद्र में आयी शिकायतों की विस्तृत जानकारी ली। साथ ही लंबित शिकायतों के शीघ्र निष्पादन करनेे का निर्देश दिया। समीक्षा के दौरान पलामू जिले में मुख्यमंत्री जन संवाद की नोडल पदाधिकारी-सह-डीआरडीए डायरेक्टर स्मिता टोप्पो ने शिकायतों के निष्पादन की प्रगति और लंबित शिकायतों के बारे में बताया। समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव ने लंबित शिकायतों का त्वरित निष्पादन करने का निर्देश दिया। प्रधान सचिव ने पदाधिकारियों से सिर्फ कागज़ी कार्यवाही तथा खानापूर्ति न करने का निर्देश दिया। साथ ही जनसंवाद में आये आवेदनों को स्पष्ट प्रतिवेदन देकर शिकायत को बंद करने का भी निर्देश दिया। उन्होंने पलामू जिले के पाकी प्रखंड की रिंकी देवी को जल्द से जल्द पारिवारिक लाभ देने के लिए अंचलाधिकारी पांकी तथा सदर अनुमंडल पदाधिकारी को निर्देश दिया। उन्होंने मुख्यमंत्री जनसंवाद के नोडल पदाधिकारी को छोटे-मोटे मामलों को जनसंवाद में न लाकर उन मामलों को प्रारंभिक स्तर पर ही सुलझाने का आदेश दिया। उन्होंने बताया कि प्रत्येक माह के हर द्वितीय शनिवार को उपायुक्त जन संवाद में आयी शिकायतों की समीक्षा बैठक करेंगे। मुख्यमंत्री जनसंवाद केंद्र की साप्ताहिक समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री सचिवालय में पदस्थापित संयुक्त सचिव मनोहर मरांडी, सिविल सर्जन डॉ. जॉन एफ केनेडी, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी शत्रुंजय कुमार के अलावा अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.