City Post Live
NEWS 24x7

गंगा नदी में बनने वाले कई सेतु पर लगा ग्रहण, विक्रमशिला सेतु के निर्माण पर रोक

- Sponsored -

- Sponsored -

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : भागलपुर में बन रहे विक्रमशिला सेतु के निर्माण पर grahan लग गया है. आइडब्ल्यूएआइ ने तकनीकी तौर पर इस पुल के निर्माण पर रोक लगा दिया है. इस रोक की वजह से गंगा नदी पर बन रहे सभी सेतू के निर्माण पर ग्रहण लग गया है. दरअसल, गंगा नदी पर बनने वाले किसी भी पुल के स्पैन का फासला अगर सौ मीटर से कम का हुआ तो भारतीय अंतर्देशीय जलमार्ग प्राधिकरण (Inland Waterways Authority of India) से उसे अनुमति नहीं देगा. आइडब्ल्यूएआइ के अनुसार पुल के पूरे हिस्से का स्पैन सौ मीटर फासले का होना चाहिए. भागलपुर में विक्रमशिला सेतु के समानांतर बनने वाले चार लेन पुल के निर्माण पर इसी आधार पर आइडब्ल्यूएआइ ने रोक लगा दी है.

भारतीय अंतर्देशीय जलमार्ग प्राधिकरण की इस तकनीकी व्यवस्था का आधार पर्यावरण व वाणिज्यि‍क है. इस संबंध में यह कहा गया है कि अगर पुल के स्पैन का फासला सौ मीटर से अधिक का नहीं होता है तो उससे मालवाहक जहाज नहीं गुजर सकेंगे. इसके अतिरिक्त स्पैन का फासला सौ मीटर रहने से पानी का बहाव भी सही तरीके से होगा और अपेक्षाकृत गाद कम जमा होगा.आइडब्ल्यूएआइ का कहना है कि यह देखा जाता है कि जहां पुल बनता है वहां मुख्यधारा में स्पैन का फासला सौ मीटर तो कर दिया जाता है पर मुख्यधारा से अलग स्पैन का फासला 50 मीटर ही रखा जाता है. पर्यावरण की दृष्टि से यह उचित नहीं. इसलिए पुल के पूरे हिस्से का स्पैन का फासला सौ मीटर का होना चाहिए नहीं तो पुल निर्माण को अनुमति नहीं मिलेगी.

गौरतलब है कि विक्रमशिला सेतु के समानांतर चार लेन पुल के निर्माण के लिए निविदा की प्रक्रिया पूरी कर ली गयी थी. काम शुरू किए जाने की तैयारी थी पर मामला आइडब्ल्यूएआइ से अनुमति नहीं मिलने से अटक गया है. इस पुल की डिजायन इस तरह की थी कि कई जगह पचास मीटर वाले स्पैन थे.विक्रमशिला पुल के लिए चयनित एजेंसी कह रही है कि उसे अगर सौ मीटर स्पैन पर डिजायन कर पुल बनाना होगा तो चार सौ करोड़ रुपए अधिक चाहिए। इस राशि को लेकर सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय से सहमति नहीं है.

गौरतलब है कि गंगा नदी में कई जगहों पर नए पुल का निर्माण होना है. शेरपुर-दिघवारा, जेपी सेतु के समानांतर दीघा-सोनपुर, गांधी सेतु के समानांतर,राजेंद्र सेतु के समानांतर मोकामा में, विक्रमशिला सेतु के समानांतर भागलपुर में, साहेबगंज-मनिहारी में गंगा नदी पर पुल बनाना है ,अब ईन सभी पूलों के निर्माण आइडब्ल्यूएआइ के गाईडलाइन्स के हिसाब से ही करना होगा.

-sponsored-

- Sponsored -

Subscribe to our newsletter
Sign up here to get the latest news, updates and special offers delivered directly to your inbox.
You can unsubscribe at any time

- Sponsored -

Comments are closed.