By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बेगूसराय : मुखिया पद के लिए उपचुनाव का परिणाम विचाराधीन, समर्थक कर रहे हंगामा

Above Post Content

- sponsored -

बेगूसराय में 8 जून 2018 को हुए रजौड़ा पंचायत में मुखिया के लिए उप चुनाव का मतगणना आज किया गया, लेकिन एक ईवीएम खराब होने के कारण रिजल्ट पेंडिंग रह गया. जिसके बाद मुखिया के समर्थकों ने हंगामा शुरू कर दिया.

Below Featured Image

-sponsored-

बेगूसराय : मुखिया पद के लिए उपचुनाव का परिणाम विचाराधीन, समर्थक कर रहे हंगामा

सिटी पोस्ट लाइव : बेगूसराय में 8 जून 2018 को हुए रजौड़ा पंचायत में मुखिया के लिए उप चुनाव का मतगणना आज किया गया, लेकिन एक ईवीएम खराब होने के कारण रिजल्ट पेंडिंग रह गया. जिसके बाद मुखिया के समर्थकों ने हंगामा शुरू कर दिया. दरअसल सदर प्रखंड के रजौड़ा पंचायत में विजय मुखिया सुधांशु कुमार की उम्र कम होने की शिकायत पर उसे पद से मुक्त किया गया था, जिसके बाद 8 जून 2018 को मुखिया पद के लिए उपचुनाव हुआ. उपचुनाव में सुधांशु कुमार की उम्र हो चुकी थी इसलिए सुधांशु कुमार चुनाव मैदान में उतरे.चुनाव संपन्न होने के बाद सुधांशु कुमार फिर हाईकोर्ट पहुंच गए, जिस कारण हाईकोर्ट ने मतगणना कार्य पर रोक लगा दी.

आज हाईकोर्ट के आदेश पर सदर प्रखंड में मुखिया पद की गिनती शुरू की गई. बता दें रजौड़ा पंचायत में कुल 12 वार्ड हैं जिसमे 11 वार्ड की गिनती के बाद गीता देवी 660 वोटों से सुधांशु कुमार से आगे हैं. 1 वार्ड में जो खराब हुआ उसमें कुल 434 वोट टोटल हैं अब गीता देवी की मांग है कि उन्हें विजई घोषित किया जाए क्योंकि अगर 434 वोट भी सुधांशु कुमार को मिलते हैं तब भी वह 200 से ज्यादा मतों से विजय होंगे. वहीं दूसरी ओर सुधांशु कुमार का कहना है कि पदाधिकारियों ने कहा है कि राज्य मुख्यालय से मार्ग निर्देशिका मांगी गई है क्योंकि एक ईवीएम की गिनती नहीं हुई है जिस कारण परिणाम रोका गया है.

Also Read
Inside Post 3rd Paragraph

-sponsored-

बेगूसराय से सुमित कुमार की रिपोर्ट

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.