By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

राज्यपाल ने गुरुकुल जाकर ड्रॉपआउट बालिकाओं से मुलाकात की

- sponsored -

राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने अपने चार दिवसीय संताल परगना प्रमंडल भ्रमण में आज कल्याण गुरुकुल जाकर ड्रॉपआउट बालिकाएं जो सिलाई कढ़ाई का प्रशिक्षण प्राप्त कर रही हैं, उनसे मुलाकात की।

राज्यपाल ने गुरुकुल जाकर ड्रॉपआउट बालिकाओं से मुलाकात की

सिटी पोस्ट लाइव, जामताड़ा: राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने अपने चार दिवसीय संताल परगना प्रमंडल भ्रमण में आज कल्याण गुरुकुल जाकर ड्रॉपआउट बालिकाएं जो सिलाई कढ़ाई का प्रशिक्षण प्राप्त कर रही हैं, उनसे मुलाकात की। इस अवसर पर उन्होंने बालिकाओं को प्रोत्साहित किया। राज्यपाल  ने कहा कि इस अवसर को अपने हाथ से जाने नहीं दे, इसका पूरा लाभ उठाएं।आप इस विद्या में निपुण होकर स्वयं के साथ अपने परिवार के जीवन में परिवर्तन ला सकती हैं। राज्यपाल  ने उक्त कल्याण गुरुकुल की गतिविधियों की पूर्ण जानकारी प्राप्त करते हुए रोजगार आदि के संदर्भ में भी पृच्छा की। अवगत कराया गया कि प्रशिक्षणोपरांत उन्हें रोजगार उपलब्ध हो जाएगा। राज्यपाल महोदया ने इसके प्रचार-प्रसार की जानकारी लेते हुए इस ओर और ध्यान देने हेतु कहा ताकि इस प्रकार औऱ बच्चे प्रशिक्षण प्राप्त करने हेतु आयें। इस क्रम में राज्यपाल ने आज आश्रम बालिका विद्यालय जामताड़ा का भ्रमण करते हुए कहा कि हमारे राज्य की बालिकाएं विभिन्न क्षेत्रों में अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं।उन्होंने छात्राओं को उत्कृष्टता हासिल करने हेतु प्रोत्साहित किया। राज्यपाल महोदया ने बच्चों को समय का सदुपयोग करने को कहा। उन्होंने कहा कि समय का सदुपयोग कर अपने जीवन में बेहतर बनायें। उन्होंने कहा कि आप जिस समाज से आते हैं, वह अभी भी सामाजिक व आर्थिक दृष्टिकोण से पिछड़ा है। ऐसे में आपका दायित्व है कि आप समाज के पिछड़ेपन को दूर करें। उन्होंने कहा कि शिक्षा ही विकास का द्वार है। सरकार द्वारा इस हेतु कई जनकल्याणकारी योजनाएं संचालित की जा रही है। आप उनका लाभ उठाएं, साथ ही विभिन्न योजनाओं से समाज को अवगत कराएं ताकि विकसित समाज की स्थापना हो सके। राज्यपाल महोदया ने कल्याण विभाग द्वारा संचालित आश्रम बालिका विद्यालय जामताड़ा के भ्रमण के क्रम में विभिन्न कक्षाओं में जाकर छात्राओं से मुलाकात की, साथ ही पुस्तकालय,प्रयोगशाला में मौजूद उपकरणों, व्यायामशाला, छात्रावास, भोजनालय की जानकारी प्राप्त करने हेतु इसका निरीक्षण किया। उक्त अवसर पर उपायुक्त जामताड़ा, पुलिस अधीक्षक जामताड़ा, समेत विभिन्न पदाधिकारीगण, शिक्षिकाएं एवं बालिकाएं मौजूद थे।  राज्यपाल   द्रौपदी मुर्मू ने   कस्तूरबा बालिका आवासीय विद्यालय दुलाडीह जामताड़ा का भ्रमण किया। उक्त अवसर पर उन्होंने विभिन्न कक्षाओं में जाकर अध्ययन कर रहीं बालिकाओं से मुलाकात की तथा उनसे पढ़ाई के संबंध में बातचीत करते हुए उन्हें प्रोत्साहित किया। राज्यपाल  ने प्रयोगशाला, छात्रावास, स्मार्ट क्लासरूम, भोजनालय आदि का भी अवलोकन किया।राज्यपाल महोदया ने कहा कि हमारे बच्चे युग प्रवर्तक हैं और युग प्रवर्तन के लिए प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। आप सिर्फ पढ़ाई के क्षेत्र में ध्यान नहीं दे रहे हैं बल्कि नृत्य, संगीत, पेंटिंग आदि के क्षेत्र में भी प्रशिक्षण ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि कभी हमारा समाज पुरुष प्रधान समाज रहा होगा लेकिन आज ऐसा नहीं है। अभी सरकार द्वारा विभिन्न योजनाएं संचालित है। महिलाओं को विभिन्न स्तर पर अवसर प्रदान किया गया है। अभी पंचायत चुनाव में 50प्रतिशत आरक्षण महिलाओं को दिया गया है। उन्होंने बालिकाओं से उत्कृष्टता हासिल करने हेतु कहा ताकि सामाजिक व आर्थिक पिछड़ापन दूर हो।राज्यपाल महोदया ने कहा कि शिक्षा को बांटिये। समाज को भी शिक्षित करने हेतु कार्य करें। उच्च लक्ष्य निर्धारित कर उस दिशा में कठिन प्रयास करें । मंजिल दूर नहीं है।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.