By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

झारखंड में आतंकी हमले की आशंका को लेकर आईबी का अलर्ट

Above Post Content

- sponsored -

इंटेलिजेंस ब्यूरो ने झारखंड के आतंक निरोधी दस्ता (एटीएस) को अलर्ट किया है। आईबी ने पत्र भेजकर झारखंड में आतंकी हमले की आशंका जताई है।

Below Featured Image

-sponsored-

झारखंड में आतंकी हमले की आशंका को लेकर आईबी का अलर्ट

सिटी पोस्ट लाइव, रांची: इंटेलिजेंस ब्यूरो ने झारखंड के आतंक निरोधी दस्ता (एटीएस) को अलर्ट किया है। आईबी ने पत्र भेजकर झारखंड में आतंकी हमले की आशंका जताई है। पुलिस सूत्रों के अनुसार पाकिस्तान पर हुए एयर स्ट्राइक के बाद झारखंड में भी जैश ए- मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा जैसे आतंकी संगठनों के द्वारा हमले की आशंका जताई गई हैं। पत्र में कहा गया है कि आतंकी महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल, रेलवे स्टेशन, पेट्रोल पंप के डिपो, बस स्टैंड, धार्मिक स्थल और विदेशी नागरिकों को अपना निशाना बना सकते हैं ।आतंकी संगठन के टारगेट पर राजनीतिक दल से जुड़े लोग और सामाजिक संगठन के लोग भी हो सकते है। एहतियात के तौर पर नकली नोट के कारोबारियों और आपराधिक गिरोह पर भी नजर रखने का आदेश दिया गया है। आईबी ने झारखंड पुलिस को राज्य में पूर्व में हुए आतंकी कनेक्शन पर भी निगरानी रखने को कहा गया है। आईबी ने एटीएस को रांची के अलग-अलग जगहों पर अच्छी तरह से मॉक ड्रिल कर लगातार अभ्यास करने का निर्देश भी दिया है। निर्देश के बाद लगातार एटीएस की टीम बड़े-बड़े होटलों और मॉल में मॉक ड्रिल कर आतंकियों से निपटने के लिए तैयारी में लगी हुई है। उल्लेखनीय है कि झारखंड में 2008 से ही सिमी और इंडियन मुजाहिद्दीन जैसे आतंकी संगठनों का स्लीपर सेल काम करता रहा है। पटना के गांधी मैदान में साल 2013 के अक्टूबर महीने में मोदी की सभा में ब्लास्ट, बोध गया ब्लास्ट को रांची के सीटीओ मॉड्यूल के आतंकियों ने ही अंजाम दिया था। अहमदाबाद, सूरत जैसे शहरों में सीरियल ब्लास्ट के बाद इंडियन मुजाहिदीन के भटकल बंधु रांची में शरण ले चुके है। इसके अलावा हिंदपीढ़ी के इरम लॉज से भी पुलिस ने कई टाइमर बम बरामद किए थे।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.