By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बेगूसरायः क्रोध में है गंगा, कटाव की वजह से कई बीघा जमीन नदी में समायी

- sponsored -

बेगूसराय का अंतिम प्रखण्ड सामहो दियारा, जहाँ ना कभी अखबार जाते हैं ना पत्रकार। परंतु गंगा की गोद मे बसा यह क्षेत्र लखीसराय और मुंगेर जिला से घिरा है। भौगोलिक दृष्टिकोण से अगर लखीसराय में होता तो अबतक विकास की नई लकीर खींची जा चुकी होती।

-sponsored-

बेगूसरायः क्रोध में है गंगा, कटाव की वजह से कई बीघा जमीन नदी में समायी

सिटी पोस्ट लाइवः बेगूसराय का अंतिम प्रखण्ड सामहो दियारा, जहाँ ना कभी अखबार जाते हैं ना पत्रकार। परंतु गंगा की गोद मे बसा यह क्षेत्र लखीसराय और मुंगेर जिला से घिरा है। भौगोलिक दृष्टिकोण से अगर लखीसराय में होता तो अबतक विकास की नई लकीर खींची जा चुकी होती। दर्जनों गाँव और घनी आबादी बाला क्षेत्र है, जहाँ आपदा की स्थिति में भी पहुंचना प्रशासन के लिये एक दुरूह कार्य है। इसीलिए यहाँ के निवासी या तो खुद के भरोसे जीते हैं या भगवान के।

आज भी इन दर्जनों गाँव तक कई किलोमीटर पैदल ही जाना एक मात्र विकल्प है। ऐसे में पिछले एक सप्ताह से गंगा ने विकराल रूप धारण कर रखा है जिसमे कई बीघे खेती की जमीन समाहित हो चुकी है। इन इलाकों की जमीनी हकीकत रूह कंपा देने वाली है। जरा सोंचिये जिनकी जमीनें और आशियाने इस तेज धार में समाते जा रहे हैं उनपर क्या बीत रही होगी?

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.