By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

लोकसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन पर मायावती ने कई प्रदेशों के प्रभारी हटाये

;

- sponsored -

लोकसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन पर बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने दो प्रदेशों के प्रदेश अध्यक्ष समेत छह राज्यों के प्रभा​रियों को हटा दिया है।

-sponsored-

-sponsored-

लोकसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन पर मायावती ने कई प्रदेशों के प्रभारी हटाये

सिटी पोस्ट लाइव : लोकसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन पर बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने दो प्रदेशों के प्रदेश अध्यक्ष समेत छह राज्यों के प्रभा​रियों को हटा दिया है। मायावती ने उत्तराखंड, बिहार, झारखंड, राजस्थान, गुजरात व उड़ीसा के राज्य प्रभारियों को हटाया है। इसके साथ ही दिल्ली व मध्य प्रदेश के प्रदेश अध्यक्षों को भी हटाया गया है। दिल्ली में सुरेंद्र सिंह की जगह लक्ष्मण सिंह और मध्य प्रदेश में डीपी चौधरी की जगह रमाकांत पुत्तल को नया प्रदेश अध्यक्ष बनाया है।

मायावती ने शनिवार को नई दिल्ली में राज्य प्रभारियों व प्रदेश अध्यक्षों के साथ बैठक की थी। इसमें राज्यवार लोकसभा चुनाव की स्थितियों की चर्चा करने के बाद यह कदम उठाया गया। लोकसभा चुनाव में बसपा को अनुमान से बहुत कम सीटें मिली हैं। इसके चलते मायावती काफी नाराज हैं। उन्होंने समीक्षा के दौरान खराब प्रदर्शन पर मध्य प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष छट्ठूराम व दिल्ली के प्रदेश अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह को हटा दिया है। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश में पार्टी के अध्यक्ष आरएस कुशवाहा को उत्तराखंड राज्य प्रभारी के पद से हटा दिया गया है। उनकी जगह पर एमएल तोमर को नया प्रभारी बनाया गया है।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

इसके अलावा मायावती ने उड़ीसा-गुजरात के प्रभारी पद से छट्ठूराम को हटाकर बिहार-झारखंड का प्रभारी बनाया है। मुनकाद अली को राजस्थान प्रभारी पद से हटा दिया गया है। पूर्व सांसद डॉ. बलिराम को बिहार राज्य के द्वितीय प्रभारी पद से हटाया गया है। पूर्व मंत्री राजेंद्र सिंह को झारखंड राज्य प्रभारी पद से हटा दिया गया है। वहीं रामअचल राजभर को गुजरात के साथ महाराष्ट्र का प्रभारी बनाया गया है। उनसे बिहार राज्य का प्रभार वापस ले लिया गया है। मायावती ने मध्य प्रदेश, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, राजस्थान, गुजरात, उड़ीसा राज्य प्रभारियों के साथ बैठक कर अपेक्षा से खराब प्रदर्शन की वजहों पर चर्चा की।

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.