By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

नवादा : मतदाताओं का जज्बा, नाव पर सवार होकर 8 किमी दूर वोट देने पहुंचे

HTML Code here
;

- sponsored -

आखिर भारत में लोकतंत्र जिंदा कैसे हैं इसका उदाहरण आज रजौली में पंचायत चुनाव में देखने को मिला. उत्साहित मतदाता अपने पास से पैसा खर्च कर जान जोखिम में डालकर नाव के सहारे फुलवरिया जलाशय को लगभग 6 किलोमीटर चलकर लोकतांत्रिक तरीके से संविधान में प्राप्त अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए आ रहे हैं.

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव: आखिर भारत में लोकतंत्र जिंदा कैसे हैं इसका उदाहरण आज रजौली में पंचायत चुनाव में देखने को मिला. उत्साहित मतदाता अपने पास से पैसा खर्च कर जान जोखिम में डालकर नाव के सहारे फुलवरिया जलाशय को लगभग 6 किलोमीटर चलकर लोकतांत्रिक तरीके से संविधान में प्राप्त अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए आ रहे हैं. यह सभी मतदाता सुदूर जंगल में अवस्थित कर्तनिया गांव के हैं.

अभी नाव के सहारे जलाशय के पार कर 6 किलोमीटर दूर सतगिर गांव पंचायत चुनाव में अपने मनोनुकूल उम्मीदवारों को वोट देने के लिए जा रहे हैं. इसके पहले कौवाकोल प्रखंड में भी चुनाव के दौरान मतदाता 4 पहाड़ों को पार कर किलोमीटर पैदल चलकर अपना मताधिकार का प्रयोग करने आए थे. यूपी सरकार की सड़क नाली नल और जल योजना के यह पंचायत चुनाव नेपोल खोल कर रखी है. गांव को पक्की सड़क से जोड़ने की योजना का मुख्यमंत्री द्वारा घोषणा का आ रहे मतदाता मुंह दिखा रहे हैं.

बता दें कि, नवादा के रजौली में ही सुबह सिरोडाबर पंचायत की बूथ संख्या-162 पर वोट देने के लिए वोटर नहीं पहुंच रहे थे. ग्रामीण का कहना है कि दो मुखिया प्रत्याशी के समर्थकों ने वोटिंग से पहले मारपीट कीथी. जिसके कारण ग्रामीणों ने मतदान का बहिष्कार कर दिया था. बता दें कि, आज पंचायत चुनाव के तीसरे चरण का मतदान जारी है. तीसरे चरण में 81616 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं, जिनमें 38555 पुरुष और 43061 महिला प्रत्याशी हैं.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

रजौली से सनोज कुमार संगम की रिपोर्ट

HTML Code here
;

-sponsered-

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.